मातृभाषा दिवस पर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता ने राज्यवासियों को दिए ये संदेश

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को मातृभाषा दिवस पर अखण्डता के संदेश दिए हैं।

कोलकाता.
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को मातृभाषा दिवस पर अखण्डता के संदेश दिए हैं। दक्षिण कोलकाता के देशप्रिय पार्क में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने देश की एकता और अखण्डता के पक्ष में सवाल किया। ममता ने कहा कि मातृभाषा की मर्यादा की रक्षा करने के लिए देशमाता की रक्षा जरूरी है। आईए, हम सब मिलकर एकसाथ देशमाता की आंचल की छांव में सुरक्षित रहें। देश के साथ बंगाल भी अखण्ड और अटूट रहे। विभाजन के खिलाफ हम सब एकजुट होकर लड़ेंगे। लड़ाई चाहे जितनी कठिन हो सबको मिलकर लडऩा है।

मातृभाषा सभा मंच से ममता ने आर्ट कॉलेज के पूर्व पेंटरों को प्रति महीने 1500 रुपए बतौर पेंशन देने की घोषणा की। उल्लेखनीय है कि एनआरसी के खिलाफ पिछले दिनों जिन पेंटरों ने धर्मतल्ला के निकट गांधी मूर्ति के समक्ष पेंटिंग के माध्यम से विरोध प्रकट किया था, उनके अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने पूर्व पेंटरों को सौगात दिया।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद तथा चर्चित पेंटर जोगेन चौधरी, राज्य के सूचना व संस्कृति राज्य मंत्री इंद्रनील सेन, राज्य के मंत्री अरूप विश्वास सहित कई अन्य अतिथि उपस्थित रहे।

Prabhat Kumar Gupta Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned