WEST BENGAL-श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट में अखंडता प्रतिज्ञा समारोह

अध्यक्ष विनित कुमार ने कर्मचारियों को दिलाई डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ईमानदारी की शपथ

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 28 Oct 2020, 08:22 PM IST

KOLKATA NEWS-कोलकाता। केंद्रीय सतर्कता आयोग के निर्देशों के अनुसार श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट में 27 अक्टूबर को सतर्कता जागरूकता सप्ताह के तहत अखंडता प्रतिज्ञा समारोह आयोजित किया गया। इस वर्ष सतर्कता जागरूकता सप्ताह की थीम-सतर्क भारत, समृद्ध भारत है। श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट के अध्यक्ष विनित कुमार ने उपस्थित सभी कर्मचारियों को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ईमानदारी की शपथ दिलाई। इस उद्घाटन समारोह में कुमार ने वर्ष के दौरान पोर्ट में आंतरिक प्रक्रियाओं और गतिविधियों को देखने पर जोर दिया। कुमार ने पेंशनर्स हैंडबुक और पारदर्शिता चार्टर का अनावरण किया। उपाध्यक्ष एके मेहरा ने सुशासन के लिए पारदर्शिता और अखंडता की भूमिका पर बात की। मुख्य सतर्कता अधिकारी डॉ. प्रीति महतो ने सीवीसी के संदेश को पढ़ा। इसके बाद सतर्क भारत, समृद्ध भारत पर एक वेबिनार का आयोजन किया गया। उप मुख्य सतर्कता अधिकारी सुमन चटर्जी के धन्यवाद प्रस्ताव के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ। 25 फरवरी को हुई बैठक में कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने कोलकाता पोर्ट का नाम श्यामा प्रसाद मुखर्जी पोर्ट रखने का प्रस्ताव रखा था.पश्चिम बंगाल के लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए, 12 जनवरी, 2020 को कोलकाता पोर्ट के एक समारोहों में यह घोषणा की गई थी कि कोलकाता पोर्ट का नाम डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर रखा जाएगा. डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को पश्चिम बंगाल ही नहीं देश के बड़े नेता, बंगाल के विकास के सपने देखने वाले, औद्योगीकरण के लिए प्रेरणा के तौर पर देखा जाता है.

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned