WEST BENGAL--- रोजाना 300 संसाधनहीन लोगों को निशुल्क भोजन उपलब्ध करा रहा मारवाड़ी सम्मेलन भोजनालय

अखिल भारतवर्षीय मारवाड़ी सम्मेलन की वार्षिक साधारण सभा

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 13 Nov 2020, 04:33 PM IST

BENGAL NEWS-कोलकाता। कोरोनाकाल में उद्योग—व्यापार और रोजगार की स्थिति दयनीय बनी हुई है। दैनिक मजदूरी, छोटे उद्योग—धंधों के सामने अस्तित्व—संरक्षण की स्थिति है। इन विषम परिस्थितियों में सम्मेलन ने परम्परानुसार अपनी केन्द्रीय तथा प्रादेशिक शाखाओं के माध्यम से समाज के वंचित वर्ग तक पहुंचने का यथासम्भव प्रयास किया है तथा हर सम्भव सहयोग प्रदान किया है। कोरोना के कारण हमारे जीवन में कुछ सकारात्मक बदलाव भी आए हैं। लोग स्वास्थ्य, व्यायाम, योग, रोग प्रतिरोधक क्षमता, आदि के प्रति जागरूक हुए हैं। साथ ही सामाजिक, वैवाहिक, धार्मिक आदि आयोजनों में आडम्बर और फिजूलखर्ची पर भी नियंत्रण लगा। प्रयास होना चाहिए कि इन सकारात्मक पहलुओं को हम अपनी दिनचर्या का अंग बनाये रखें। अखिल भारतवर्षीय मारवाड़ी सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष सर्राफ ने यह उद्गार सम्मेलन की वार्षिक साधारण सभा की बैठक में व्यक्त किये। बैठक का आयोजन वीडियो कान्फ्र्रेंस के माध्यम से किया गया। सर्राफ ने कहा कि हाल ही गठित कोरोना राहत सेवाकार्य समिति अन्तर्गत सम्मेलन की प्रादेशिक तथा स्थानीय शाखाओं के माध्यम से पूरे देश में निशुल्क मास्क का वितरण किया जा रहा है। मारवाड़ी सम्मेलन भोजनालय अन्तर्गत कोलकाता के विभिन्न स्थानों पर रोजाना 300 संसाधनहीन लोगों को निशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसको देश के अन्य स्थानों पर भी चलाने की योजना है।
पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नंदलाल रूंगटा ने कहा कि मौजूदा सत्र में सर्राफ के नेतृत्व में हर क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हुआ है। पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. हरिप्रसाद कानोडय़िा ने कहा कि सम्मेलन सदैव देश की एकता तथा प्रगति के लिए कार्य करता रहेगा। पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रामअवतार पोद्दार एवं प्रह्लाद राय अगरवाला ने कोरोनाकाल में सम्मेलन के सेवाकार्यों को महनीय बताया। राष्ट्रीय महामंत्री श्रीगोपाल झुनझुनवाला ने गत बैठक का कार्यवृत और गत वर्ष के कार्यकलापों पर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष कैलाशपति तोदी ने वित्तीय वर्ष 2019—20 के आय—व्यय का लेखा—जोखा और संतुलन पत्र प्रस्तुत किया। सी.ए. पी.के. लिल्हा को सर्वसम्मति से अगले वर्ष के लिए लेखा परीक्षक नियुक्त किया गया। धन्यवाद—ज्ञापन करते हुए निर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष गोवर्धन गाड़ोदिया ने मौजूदा सत्र की उपलब्धियों पर सर्राफ को बधाई दी। संचालन सम्मेलन के राष्टीय उपाध्यक्ष पवन गोयनका ने किया। बैठक में राष्ट्रीय संगठन मंत्री गोपाल अग्रवाल, सम्मेलन के वित्तीय उपसमिति के चेयरमैन आत्माराम सोंथलिया, पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री भानीराम सुरेका, दक्षिण भारत में सम्मेलन के संगठन—प्रभारी बसंत मित्तल, प्रादेशिक अध्यक्ष डॉ. सुभाष अग्रवाल (कर्नाटक) एवं महेश जालान (बिहार), विनय सरावगी, राजेन्द्र खण्डेलवाल ने भी वक्तव्य रखे।
ये रहे उपस्थित
डॉ. जे.के. सर्राफ, दामोदर बिदावतका, दिनेश जैन, प्रादेशिक अध्यक्षों सर्वश्री गोविंद अग्रवाल (उत्कल), श्याल सुन्दर अग्रवाल (केरल), लक्ष्मीपत भूतोडय़िा (दिल्ली) के अलावा सर्वश्री भागचंद पोद्दार, अशोक जालान, ओम प्रकाश खण्डेलवाल, राज खेतान, शिव हरि बाँका, अजय गुप्ता, गोपाल सुथार, बिशन मिरानिया अग्रवाल, अनिल मुकिम, अमर कुमार, डी.एन. सिंघल, ओ.पी. खण्डेलवाल, पवन जालान, रंजीत डालमिया, राज कुमार मूंधड़ा, गणेश खेमका, जे.के. अग्रवाल, गौरीशंकर अग्रवाल, सुरेश अग्रवाल, गणपत भंसाली, रमेश भागचंदका, मधुर झंवर, राजेन्द्र खण्डेलवाल, संजय शर्मा, नंदलाल सिंघानिया, रमेश गोयनका, केशव बजाज, अरुण मल्लावत, सुरेन्द्र अग्रवाल, सूर्यकांत सांगानेरिया, सुधीर जैन, राजेन्द्र राजा, किशन किला, पवन बजाज आदि उपस्थित थे।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned