WEST BENGAL DIWALI--बगैर आतिशबाजी मनी बंगाल में दिवाली

COVID-19 EFFECT ON DIWALI--कोविड-19 का दिखा प्रकाश पर्व पर असर , श्रद्धा और विश्वास में नहीं रही कमी ,काली पूजा से पहले मनी भूत चतुर्दशी

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 15 Nov 2020, 05:00 PM IST

BENGAL NEWS-कोलकाता। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस नोवेल कोविड-19 के चलते इस बार बगैर पटाखे, शोर शराबे के शनिवार को महानगर समेत पूरे प्रदेश में दिवाली मनाई गई। कोरोना महामारी के कारण दुर्गा पूजा में श्रद्धालुओं की भीड़ का चिरपरिचित नजारा इस बार काली पूजा में नहीं देखने को मिला। हाईकोर्ट के निर्देश से पटाखों पर प्रतिबंध के कारण बगैर पटाखों के ही दिवाली, काली पूजा बंगाल में मनाई। बड़ाबाजार, हावड़ा, हुगली, श्रीरामपुर समेत अन्य स्थानों में दुर्गा पूजा की तुलना में चमकदमक वैसे तो कम रही लेकिन श्रद्धा और विश्वास में किसी भी तरह से यह आयोजन कम नहीं रहा। पूजा आयोजनों में कई थीम का नजारा देखने को मिला। सॉल्टलेक में सैनिकों को सम्मान देते हुए पंडाल बनाया गया जहां टैंक और सैनिक नजर आए। उधर काली पूजा के एक दिन पहले शुक्रवार को भूत चतुर्दशी का पर्व बंगाल में मनाया गया। इस अवसर पर तारापीठ मंदिर में देवी की विशेष पूजा की गई।रामचंद्र के वनवास से लौटने के बाद 14 दीप जलाए गये थे उसी को याद करते हुए विशेष पूजा यहां की जाती है। इसके तहत तारापीठ में शनिवार को भी विशेष पूजा हुई। बंगाल में घर-घर भूत चतुर्दशी को 14 किस्म की सब्जियां पूजा के तहत बनाई गई। उधर बड़ाबाजार के बड़तल्ला स्ट्रीट स्थित प्रसिद्ध श्रीभैरू बाड़ी में सिद्ध महालक्ष्मी मंदिर में कोविड-19 काल के मद्देनजर दिशा-निर्देशों का पालन कर दिवाली पर पूजा हुई।सिद्धि विनायक, लक्ष्मी और संकटमोचक बालाजी का श्रृंगार किया गया। महंत पं. अशोक भादानी ने बताया कि दिवाली के अगले दिन अन्नकूट प्रसाद का आयोजन 15 नवंबर को होगा। पं. ललित भादानी, पं. दाउद ओझा, पं. सुशील कलवानी, रजनी देवी भादानी, भारती भादानी, निधि भादानी, दीपक देरासरी, रोहित साव, आकाश शर्मा, राज देरासरी, गिरिराज छंगाणी आदि सक्रिय रहे। उधर पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (डब्ल्यूबीपीसीबी) ने जनता से पटाखों से परहेज करने की अपील की है। डब्ल्यूबीपीसीबी के सदस्य-सचिव राजेश कुमार ने कहा कि प्रतिबंध का उल्लंघन करते पाए जाने वाले किसी भी व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned