बंगाल ने नहीं दी जानकारी इसलिए नहीं लागू हुआ गरीब कल्याण अभियान बोलीं सीतारमण

केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रवासी मजदूरों के लिए घोषित किया गया गरीब कल्याण रोजगार अभियान बंगाल में इसलिए लागू नहीं किया जा सका क्यों कि राज्य सरकार ने संबंधित जानकारी नहीं दी थी।

By: Paritosh Dube

Published: 19 Sep 2020, 07:00 PM IST

नई दिल्ली, कोलकाता. लॉकडाउन के दौरान घर लौटे प्रवासी श्रमिकों को केन्द्र सरकार की कल्याणकारी योजना गरीब कल्याण रोजगार अभियान का बंगाल में इसलिए लाभ नहीं मिल पाया क्योंकि राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार को जानकारी नहीं दी। केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर चौधरी की ओर से पूछे गए प्रश्न के उत्तर में यह बात कही। शून्य काल में उठाए गए प्रश्र के जवाब में केन्द्रीय वित्तमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में गरीब कल्याण रोजगार अभियान इसलिए क्रियान्वित नहीं किया जा सका क्योंकि राज्य सरकार ने लॉकडाउन के दौरान लौटे प्रवासी श्रमिकों की जानकारी नहीं मुहैया कराई।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने २० जून को प्रवासी मजदूरों के लिए यह कल्याणकारी योजना लागू किए जाने की घोषणा की थी।
केन्द्रीय वित्तमंत्री ने बताया कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान देश के ११६ जिलों में १२५ दिनों के लिए मिशन मोड में लागू किया गया था। योजना में बिहार, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्था, झारखंड व ओडिसा शामिल किए गए थे। योजना उन जिलों में लागू की गई थी जिनमें २५ हजार से ज्यादा प्र्रवासी श्रमिक अपने पैतृक ठिकानों पर लौटे थे।
सीतारमन ने कहा कि चूंकी पश्चिम बंगाल ने केन्द्र को प्रवासी श्रमिकों की कोई संख्या नहीं बताई , इसलिए राज्य को कैसे शामिल किया जा सकता था। केन्द्र को यह कैसे पता चलेगा कि बंगाल के किस जिले में २५ हजार प्रवासी श्रमिक लौटे।

Show More
Paritosh Dube Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned