West Bengal: ममता बनर्जी ने शुभेंदु के पिता को चेयरमैन पद से हटाया

  • सांसद शिशिर अधिकारी के भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज

By: Ashutosh Kumar Singh

Published: 13 Jan 2021, 10:53 AM IST

कोलकाता़
शुभेंदु अधिकारी के परिवार के एक और सदस्य के भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं। काथी लोकसभा केंद्र से तृणमूल कांग्रेस के सांसद और शुभेंदु अधिकारी के पिता शिशिर अधिकारी को तृणमूल कांग्रेस ने दीघा- शंकरपुर विकास परिषद के चेयरमैन पद से हटा दिया है। इसकी वजह से अधिकारी परिवार के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस की दूरियां और अधिक बढ़ गई हैं। खबर है कि शुभेंदु की तरह ही शिशिर अधिकारी भी जल्द भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं। कुछ दिनों पहले काथी नगरपालिका के चेयरमैन के पद से शुभेंदु अधिकारी के भाई सोमेंदु अधिकारी को तृणमूल कांग्रेस ने हटा दिया था जिसके बाद सौमेंदु भाजपा में शामिल हो गए हैं। सौमेंदु को हटाए जाने को लेकर शुभेंदु अधिकारी के भाई दिव्येंदु अधिकारी ने नाराजगी जाहिर की थी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चिट्ठी लिखकर पूछा था कि आखिर किस अपराध की वजह से उन्हें नगरपालिका अध्यक्ष के पद से हटाया गया था। इसके बाद से अब जब खुद शिशिर को ही दीघा संकरपुर विकास परिषद के चेयरमैन के पद से हटा दिया गया है तो माना जा रहा है कि अधिकारी परिवार की नाराजगी अब और अधिक बढ़ेगी और वह भी बेटे की तरह ही भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं। अगर ऐसा हुआ तो विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को इसकी वजह से काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है। दीघा शंकरपुर विकास परिषद के चेयरमैन के पद से शिशिर को हटाकर उनकी जगह तृणमूल कांग्रेस के विधायक अखिल गिरी को नया चेयरमैन नियुक्त किया गया है।
उल्लेखनीय है कि शुभेंदु अधिकारी के पिता शिशिर अधिकारी पूर्व केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और जब कांग्रेस में थे तो पूरे मिदनापुर क्षेत्र में केवल कांग्रेस की जीत होती थी। उसके बाद वह ममता बनर्जी के साथ तृणमूल में शामिल हो गए थे। इसके बाद से इस क्षेत्र में तृणमूल का दबदबा हमेशा रहा है। अब अगर वह भाजपा में जाते हैं तो निश्चित तौर पर इसका लाभ भाजपा को मिलेगा।

Ashutosh Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned