BENGAL NEWS-जीवन में कभी-कभी हार का सामना भी करना चाहिए, बोले एवरेस्ट विजेता वेंकटेश

बताया माउंट एवरेस्ट से फतह से पहले की जोखिमों का विस्तृत विवरण , माउंट एवरेस्ट विजेता वेंकटेश माहेश्वरी के साथ ऑनलाइन परिचर्चा, कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा के आतिथ्य में संयुक्त आयोजन

By: Shishir Sharan Rahi

Updated: 20 Jul 2020, 06:21 PM IST

BENGAL NEWS: कोलकाता. जीवन में कभी-कभी हार का सामना भी करना चाहिए। माउंट एवरेस्ट विजेता वेंकटेश माहेश्वरी ने गत दिनों हुई ऑनलाइन परिचर्चा को संबोधित करते हुए यह बात कही। कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा के आतिथ्य में माहेश्वरी समाज के प्रथम एवं एकमात्र माउंट एवरेस्ट विजेता वेंकटेश माहेश्वरी के साथ ऑनलाइन परिचर्चा 19जुलाई शाम हुई। वेंकटेश ने माउंट एवरेस्ट फतह से पहले विस्तृत तैयारियों समेत एवरेस्ट फतह तक संपूर्ण यात्रा की चुनौतियों-जोखिमों का दृष्टांत के साथ विवरण दिया। कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा के साथ ही पूर्वांचल संभाग के सभी प्रादेशिक सभाओं पश्चिम बंगाल, बिहार/झारखंड, ओडीशा, पूर्वोत्तर, नेपाल चेप्टर, महिला-युवा संगठन के संयुक्त तत्वावधान में यह आयोजन हुआ।
कोलकात्ता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा के संयुक्त मंत्री राजेश नागोरी ने सोमवार को पत्रिका को यह जानकारी दी। पूर्वांचल उपाध्यक्ष कैलाश काबरा की अध्यक्षता में परिचर्चा हुई। महासभा अध्यक्ष श्याम सोनी, महामंत्री संदीप काबरा, महिला एवं युवा अध्यक्ष आशा माहेश्वरी, राजकुमार काल्या समेत अन्य राष्ट्रीय पदाधिकारियों की खास उपस्थिति रही। भगवान महेश की वन्दना के साथ कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ। संयोजक भंवरराठी ने परिचर्चा की भूमिका रखी। फिर महासभाध्यक्ष, महामंत्री, पूर्वांचल उपाध्यक्ष सहित आतिथ्य सभा अध्यक्ष ने अपने विचार एवं सुझाव रखे। वेंकटेश माहेश्वरी का परिचय राजेश नागोरी एवं प्रशस्ति पत्र का वाचन कार्यसमिति सदस्य गोपा दम्माणी की ओर सेकिया गया। संचालन प्रदेश मंत्री नन्द कुमार लढ्ढा ने किया। कार्यक्रम के दूसरे चरण में वेंकटेश माहेश्वरी ने जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए किस प्रकार अपने आप को तैयार करना चाहिए?इसके गुर भी साझा किए।

BENGAL NEWS-जीवन में कभी-कभी हार का सामना भी करना चाहिए, बोले एवरेस्ट विजेता वेंकटेश

स्वयं को तैयार रहने पर जोर

विशेष रूप से उन्होंने जीवन में कभी-कभी हार का सामना करने के लिए भी स्वयं को तैयार रहने पर जोर दिया। उन्होंने कुछ समाज बन्धुओं की जिज्ञासाओं का निराकरण कर भविष्य में भी समाज बन्धुओं की किसी प्रकार की अन्य जानकारियों के लिए भी अपनी उपलब्धता बताई।पूर्वांचल के सभी उपस्थित समाज बन्धुओं ने ऐसे रोमांचक एवं ज्ञानवर्धक कार्यक्रम आयोजित करने पर शुभकामना प्रदान की। धन्यवाद ज्ञापितसंयोजक गणेश बागड़ी ने किया। सभा, महिला एवं युवा अध्यक्ष विनोद जाजू, निर्मलामल्ल,केशव डागा आदि सक्रिय रहे।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned