WEST BENGAL-राखी बांध मनाई  ऋषि पंचमी

माहेश्वरी परिवार में रक्षा बन्धन जैसा दिन, उधर गंगा घाट पर श्रावणी उपा क्रम

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 24 Aug 2020, 04:56 PM IST

BENGAL NEWS: कोलकाता. महानगर समेत आसपास के इलाकों में रविवार को ऋषि पंचमी मनाई गई।ऋषि पंचमी जहां ब्राह्मण समाज के लिए जल कर्म तर्पण ऋषि पूजन का दिन होता है। वहीं माहेश्वरी समाज के लिए रक्षा बंधन जैसा दिन होता है। रविवार सुबह के शुभ मुहूर्त में महेश्वरी परिवारों में बहनों ने भाई को राखी बांधी। बड़ा बाज़ार, लिलुआ, हिन्द मोटर, रिसड़ा सहित अन्य स्थानों में बहने थाली में राखी लिए अपने भाई के घर जाती नजर आई ।गणेश दास चांडक (गज्जू चांडक) ने कहा कि बंगाल सरकार द्वारा आज के दिन लॉक डाउन घोषित किया गया था। जिसे रद्द करवाने के लिए समाज की सभी संस्थाओं सहित कई गणमान्य लोगों और सपन बर्मन, दिनेश बजाज जैसे टीएमसी नेताओ ने प्रयास किए थे। जिसके बाद सरकार द्वारा आज का लॉक डाउन रद्द किया गया। और बहनों ने सकून से भाईयो को राखी बांधी।, अगर लॉक डाउन होता तो यह संभव नहीं हो पाता

इधर पुष्करणा समाज काहुआ हेमाद्रि संकल्प
कोलकाता ऋषि पंचमी के अवसर पर गंगा किनारे पहलवान घाट पर पुष्करणा समाज का श्रावणी उपाक्रम किया गया। प्रारम्भ में पंचगव्य स्नान पश्चात हेमाद्रि संकल्प लिया। गया लगभग 3 घंटे चले अनुष्ठान में जल तर्पण, सुर्य उपासना आदि कर्म किए गए। फिर सप्त ऋषि भवन में ऋषि पूजन, यज्ञोपवीत पूजन, गुरु पूजन,यज्ञ पूजन किया गया।कार्यक्रम का संयोजन शिव कुमार व्यास ने किया।, मुख्य यजमान हीरालाल किराडू और गिरधर दास पुरोहित थे। आचार्य का कार्य गिरिराज हर्ष अनुरागी ने किया। पूजन में नृसिंह दास बिस्सा, रामगोपाल थानवी, संतोष व्यास, राज कुमार पुरोहित, सुरेंद्र पुरोहित, विष्णु रंगा सहित कई विप्र शामिल हुवे।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned