WEST BENGAL-हिंदुत्व चेतना, गौरव बोध के लिए जनजागरण अभियान जरूरी--शंकराचार्य

हिन्दू राष्ट्र संघ का ऐतिहासिक अधिवेशन कोलकाता में 11 जनवरी को

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 16 Dec 2020, 07:06 PM IST

BENGAL NEWS-कोलकाता। श्रीगोवर्धन मठ, पुरी पीठाधीश्वर शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती महाराज ने हिन्दू राष्ट्र संघ के वेबिनार से अधिवेशन में सनातन धर्मावलंबियों से आद्य शंकराचार्य की परम्परागत चार पीठ एवं सनातन हिन्दू धर्म से जुडऩे का आह्वान किया। शंकराचार्य ने भारत, नेपाल और भूटान में हिंदुत्व जनजागरण पर कहा कि हिन्दू आज जाति, सम्प्रदाय, संस्थाओं, राजनीति में विभाजित है। उन्होंने कहा कि हिंदुत्व चेतना, गौरव बोध के लिए जनजागरण अभियान जरूरीहै। हिन्दू दिग्भ्रमित हो, यह अधर्मियों का षड्यंत्र है, जिसे हम जागरूक रह कर समझें। इससे हिन्दू राष्ट्र संघ के अधिवेशन का उद्देश्य सार्थक हो। शंकराचार्य के राष्ट्रीय प्रवास प्रभारी प्रेमचन्द्र झा ने बताया कि शंकराचार्य के सान्निध्य में हिन्दू राष्ट्र संघ का ऐतिहासिक अधिवेशन कोलकाता में 11 जनवरी को होगा। अधिवेशन में देश-विदेश के विद्वान, अतिथि उपस्थित रहेंगे। पीठ परिषद गंगासागर तीर्थयात्री सेवा शिविर के चैयरमैन पंडित लक्ष्मीकान्त तिवारी, आदित्य वाहिनी के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष विनय दुबे, गोवर्धन गोशाला, पुरी के अध्यक्ष मूलचन्द राठी, अधिवेशन एवं स्वागत समारोह के संयोजक राजेन्द्र कुमार सोनी तथा कार्यकर्ता हिंदुत्व जनजागरण एवं गोसंरक्षण, गोसंवर्द्धन अभियान में सक्रिय हैं। शंकराचार्य स्वागत समिति के संरक्षक प्रदीप रुईया, संतोष रूंगटा, सुभाष मुरारका, सुशील गोयनका, कुंज बिहारी अग्रवाल, प्रहलादराय गोयनका, पुरुषोत्तम परसरामपुरिया, मनोज तिवारी, दीपक मिश्रा, ओम प्रकाश भरतिया, मनोज तिवारी, संजय उपाध्याय, सुशील कोठारी, जे पी सिंह, रमेश लाखोटिया, जय प्रकाश तिवारी, अशोक झा, शिवनारायण बाहेती, जगदीश प्रसाद सुगन्ध, मुकेश चतुर्वेदी, उषा गुप्ता, गंगासागर तीर्थयात्री सेवा शिविर के सचिव महेश आचार्य, मालचन्द चांडक, राजकुमार मूंधड़ा, अनिर्वाण भट्टाचार्य आदि सक्रिय हैं।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned