WEST BENGAL-महानगर में रहा भारत व्यापार बंद का व्यापक प्रभाव

जीएसटी खामियों , ई-कॉमर्स संबंधित मुद्दों के खिलाफ मुख्रर हुए व्यवसायी संगठन

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 26 Feb 2021, 10:18 PM IST

BENGAL NEWS-कोलकाता। जीएसटी की खामियों और ई-कॉमर्स से संबंधित मुद्दों के खिलाफ कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स के आह्वान पर शुक्रवार को भारत व्यापार बंद आयोजित किया गया। महानगर के विद्युत व्यवसायियों के केंद्र मध्य कोलकाता स्थित ईजरा स्ट्रीट, इंडिया प्लेस प्ले तथा अन्य क्षेत्रों में बंद का व्यापक प्रभाव रहा। कैट के प्रांतीय संयुक्त सचिव डॉ. मुकेश सिन्हा, कोलकाता इलेक्ट्रिक ट्रेडर्स एसोसिएशन, कोलकाता इलेक्ट्रिक डीलर एसोसिएशन, सीएमडीए की संयुक्त पहल से स्थानीय व्यापारियों का एक तरफा समर्थन प्राप्त हुआ। व्यवसायियों ने आरोप लगाया कि गत 3 वर्षों से लगातार जीएसटी कर प्रणाली ने व्यवसायियों को नित्य नए संकटों में उलझा कर रखा है। एक राष्ट्र एक कर की घोषणा के साथ अमल में आई इस कर प्रणाली ने मध्यम एवं छोटे व्यवसायियों को केवल समस्याओं का सौगात ही प्रदान की। जीएसटी परिषद की असंख्य बैठक के उपरांत आज तक इसका सरलीकरण नहीं हुआ। निरंतर इस संकट से जूझ रहा व्यापारी समाज अब धैर्य खोता नजर आ रहा है। सरकार की कुंभकरण निद्रा में खलल डालने तथा इस संकट के निदान पर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से आयोजित इस बंद का व्यापक प्रभाव स्पष्ट दर्शाता है कि सरकार को अतिशीघ्र इस जटिल समस्या का समाधान शीघ्र करना होगा। स्थानीय विद्युत संस्था सीटाके अध्यक्ष एलएन मूंदड़ा, किशन मोहता, उपाध्यक्ष सचिव मनोज सिंधी, सीडा अध्यक्ष चंद्रेश मेघानी, सचिव संदीप चतुर्वेदी, आलोक सिंह, जिग्नेश रामपुरिया सिद्धार्थ, राजेंद्र मोहता, उमाकांत अग्रवाल उर्फ बंटी, जितेंद्र सुराणा, मनीष चतुर्वेदी आदि व्यवसायियों का बंद को समर्थन रहा।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned