WEST BENGAL---असली नया वर्ष अपना यही, पश्चिम का करना नकल क्या सही?

हिन्दू नववर्ष पर राष्ट्रीय कवि संगम पश्चिम बंगाल का कवि सम्मेलन

By: Shishir Sharan Rahi

Published: 15 Apr 2021, 08:50 PM IST

BENGAL NEWS-कोलकाता। राष्ट्रीय कवि संगम पश्चिम बंगाल इकाई की ओर से हिन्दू नववर्ष पर कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। अध्यक्षता प्रांतीय अध्यक्ष डॉ.गिरिधर राय ने की। शुरुआत रीमा पाण्डेय ने सरस्वती वंदना से की। राय ने अपनी नई कविता हिन्दू नववर्ष के कुछ छंद इन पंक्तियों से सुनाई--असली नया वर्ष अपना यही, पश्चिम का करना नकल क्या सही है?परामपुकार सिंह पुकार गाजीपुरी ने ...जिये इक दूसरे खातिर सही संस्कार आ जाये/सफल नव वर्ष हो सबका उचित व्यवहार आ जाए प्रस्तुत की। रीमा पाण्डेय, जय प्रकाश पाण्डेय, रामाकांत सिन्हा, सुषमा राय पटेल, सीमा सिंह, देवेश मिश्र, निखिता पाण्डेय और अभिषेक पाण्डेय ने कविता से नये वर्ष को नये रंग में ऐसा रंगा कि सभी श्रोता काव्य रस में सराबोर हो झूम उठे। संचालन निखिता पाण्डेय और अभिषेक पाण्डेय ने किया। बलवंत सिंह गौतम, डॉ. अरविंद मिश्रा, मीना शर्मा, अंजली मिश्रा, नीहारिका सिंह तथा अनूप यादव ने कॉलेज एवं विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा रामनवमी पर आयोजित होनेवाले युवा कविसम्मेलन की रूप रेखा पर मन्तव्य प्रस्तुत किये। प्रांतीय मंत्री बलवंत सिंह गौतम ने सभी कवियों, अतिथियों और श्रोताओं को धन्यवाद दिया।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned