WEST BENGAL---मॉल्स खुलने के 1माह में ही बिजनेस बूम-बूम

महानगर के सभी शॉपिंग मॉल्स16 जून से खोल दिए गए थे,वीकेंड पर मॉल की पार्किंग फुल

By: Shishir Sharan Rahi

Updated: 21 Jul 2021, 10:57 PM IST

BENGAL NEWS--कोलकाता। कोविड संक्रमण के दरम्यान खोले गए मॉल्स के 1महीने बीतते ही बिजनेस में गति आ गई। कोरोना लहर के बीच राज्य सरकार ने 16 जून से महानगर के सभी शॉपिंग मॉल्स खोलने की घोषणा की थी। साउथ सिटी मॉल प्रोजेक्ट्स के वाइस प्रेसिडेंट मनमोहन बागड़ी का कहना है कि वीकेंड पर मॉल की पार्किंग फुल हो रही पिछले एक महीने में ढाई गुना फुटफॉल हुआ। मॉल खुलने के बाद शुरुआत में जहां 8 से 10 हजार ग्राहकों की भीड़ होती थीअब 30 से 35 हजार हो रही है। फूड कोर्ट में काफी संख्या में ग्राहक आ रहे हैं।कन्वर्जन रेट के बारे में उन्होंने कहा कि पहले लोगों की भीड़ होती थी। लेकिन कन्वर्जन रेट 10 फीसदी था पर अब ये 40 से 50त्न हो रहा है जो काफी अच्छा है।इन एक महीने में महानगर के शॉपिंग मॉल्स का बिजनेस अच्छा हुआ और मॉल्स जल्द से जल्द रिकवरी की ओर हैं। उधर अम्बुजा नेवटिया ग्रुप के होलटाइम डायरेक्टर (मार्केटिंग एण्ड इवेंट्स) रमेश पाण्डेय ने कहा कि वैक्सीन लगाने के बाद लोगों के मन में डर कम हो गया है। जब मॉल खुले थे तो सिटी सेंटर 1 में 8 हजार और 2 में केवल 4 हजारग्राहकों की भीड़ थी। अब ये बढक़र 20 से 22 हजार तक जा पहुंची।अगले सप्ताह से मॉल में भीड़ और बढऩे की उम्मीद है।एक्रोपॉलिस मॉल के जीएम के. विजयन ने बताया कि कोविड नियमों के साथ एक महीने पहले मॉल खुलें। उस समय परिवहन की स्थिति ठीक नहीं थी लेकिन अब मॉल का समय बढ़ाने और परिवहन चलने के बाद फुटफॉल पहले की तुलना में काफी बेहतर हुआ है। फूड कोर्ट और फाइन डाइनिंग सेक्शन में ग्राहकों की अच्छी भीड़ देखी जा रहै। अप्पारेल और ज्वेलरी भी अच्छा बिजनेस कर रहे। एंटरटेनमेंट जोन अब भी बंद है और रेस्टोरेंट का समय कम होने के कारण अब भी फुटफॉल पूरी तरह स्वाभाविक नहीं हो पाया है।रेस्टोरेंट खुलने का समय रात 8 तक रहने के कारण डिनर बिजनेस को नुकसान झेलना पड़ रहा।

Shishir Sharan Rahi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned