scriptWEST BENGAL NEWS | WEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिन | Patrika News

WEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिन

खुल गए स्कूल-कॉलेज, छात्रों-शिक्षकों, अभिभावकों के चेहरे पर लौटी रौनक,गुलजार हुए महानगर के शैक्षिक संस्थान,कहीं कटे केक , कहीं बंटे रसगुल्ले, तो कहीं बजे शंख,कई स्कूलों में गुलाब, पेन देकर हुआ छात्रों का स्वागत, कोविड-प्रोटोकाल का हुआ पालन
(पत्रिका ग्राउंड रपट)

कोलकाता

Published: November 17, 2021 12:53:09 pm

BENGAL SCHOOL REOPEN NEWS-कोलकाता। राज्य सरकार की अनुमति से कोरोना के कारण लगभग डेढ़ साल (20 महीने) बन्द रहने के बाद मंगलवार से महानगर समेत प्रदेश के स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी खुल गए। इसके साथ ही महानगर के शैक्षिक संस्थान फिर गुलजार हो गए। क्लास9 से 12 तक खुलने की खुशी में कहीं केक काटे गए तो कहीं रसगुल्ले बांटे गए। अनेक स्कूलों कालेजों में गुलाब, पेन देकर छात्रों का स्वागत किया गया तो कुछ जगह शंख बजाकर जयघोष हुआ। हर संस्थान में कोविड-प्रोटोकाल का पूरी तरह पालन हुआ। अधिकतर स्कूलों में एक बेंच पर 1 या 2 छात्रों को ही बैठने की इजाजत दी गई थी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन पर खास जोर रहा।इससे पहले छात्रों को सभी जरूरी दिशा निर्देश दिए गए थे। कई स्कूलों में मेनगेट पर सैनेेटाइजर की व्यवस्था भी की गई थी। स्कूलों के खुलने के पहले दिन छात्र-छात्राओं का उत्साह चरम पर रहा। इतने समय से घरों में आनलाइन क्लास करते-करते बोर हो गए थे। अब आज स्कूल आकर हमें ऐसा महसूस हुआ जैसे हमारे पुराने दिन फिर लौट आ गए। एमजी रोड के एंग्लो अरबिक सेकंडरी स्कूल से लेकर बड़ाबाजार के माहेश्वरी गल्र्स स्कूल, श्रीजैन विद्यालय, माहेश्वरी विद्यालय, मारवाड़ी बालिका, राजस्थान विद्या मंदिर आदि स्कूलों की मंगलवार को पड़ताल में छात्र-छात्राओं ने पत्रिका से बाचतीच में इस तरह अपनी प्रतिक्रिया जताई। काफी दिनों बाद मिलने पर छात्र-छात्राओं के चेहरे खुशी से खिल उठे। वे काफी रोमांचित दिखे। बच्चों के साथ ही उनके शिक्षक, माता-पिता के चेहरे भी खिले। वे अब इस चिंता से मुक्त हुए कि घर में रहने के दौरान सुबह से शाम तक जो बच्चे स्मार्टफोन से चिपके रहते थे अब वे खुले माहौल में पढाई-लिखाई करेंगे। मंगलवार को स्कूलों में 72, कालेजों में 78, विश्वविद्यालयों में 85 फीसदी आफलाइन उपस्थिति रही।
--------------
WEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिन
WEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिन
WEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिनWEST BENGAL SCHOOL REOPEN-......लौट आए फिर पुराने दिनइनकी जुबानी

-----------------
लंबे समय के अंतराल के बाद क्लास-9 से 12 तक के छात्रों ने कोरोना प्रोटोकॉल को बनाए रखते हुए उत्साहपूर्वक स्कूल में भाग लिया। बच्चों के चमकते चेहरों को देखकर आज मुझे बहुत खुशी हुई।जिसकी हम लंबे समय से लालसा कर रहे थे।---अमियो बिस्वास, प्रधानाध्यापक माइकलनगर शिक्षानिकेतन उच्च माध्यमिक विद्यालय मध्यमग्राम।
--------------------------------
एक कॉलेज जाने वाली बेटी के पिता के रूप में मेरा यह मानना है कि पढ़ाई हमेशा ऑफलाइन क्लास में ही बेहतर होती है। न कि ऑनलाइन क्लास में।----स्वरूप पॉल, टॉलीगंज .
------------------------------
क्लास में पहला दिन वास्तव में छात्रों और शिक्षकों के लिए असामान्य होता है। मार्च 2020 को लगभग 2 साल हो चुके हैं, दुनिया ने कोरोना से निपटने के लिए संघर्ष किया है। पहले ही दिन देखा गया कि प्रत्येक छात्र को पर्याप्त रूप से जागरूक होना चाहिए और सभी प्रोटोकॉल को बनाए रखना चाहिए।----सोमनाथ मजूमदार, शिक्षक माइकलनगर शिक्षानिकेतन हायर सेकेंडरी स्कूल।
-----------------
स्कूल आकर ऐसा महसूस हुआ जैसे हमारा बचपन लौट आया। घरों में रहकर बोर हो गए थे। आनलाइन क्लास में भी काफी दिक्कतें हो रही थी।---हर्ष तिवारी, क्लास-१२, श्रीदिगम्बर जैन विद्यालय।
-----------------------
महामारी के बाद मंगलवार को द हेरिटेज एकेडमी में मेरा पहला दिन था। बतौर बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन स्नातक छात्र लगभग 20 महीने के बाद आज कॉलेज में कदम रखते ही अपने शिक्षकों, दोस्तों के साथ अपने जूनियर्स से मिलकर बहुत उत्साहित रहा।----रिदम पोद्दार., छात्र द हेरिटेज एकेडमी.
--------------------------
ऑफलाइन में अपनी पहली कक्षा में भाग लेने के बाद मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। अब फिर से हमारे सहपाठी, प्रोफेसरों से चर्चा का मौका मिलेगा। सही मायने में असली क्लास तो आफलाइन ही होती है। -----दिधिति पॉल, जादवपुर विश्वविद्यालय बीए (अंग्रेजी)।
------------------------------------
-कोरोना के कारण जीवन अंधकारमय लग रहा था। पर विद्यालय खुल जाने से अब फिर से आशा की किरण दिखाई दे रही है।----अविनाश कुमार सिंह, क्लास 1२, श्रीदिगम्बर जैन विद्यालय.
-------------------------------
-लंबे समय के बाद अपने दोस्तों और शिक्षकों से मिलकर बहुत अच्छा लगा। मेरी राज्य सरकार और विशेष रूप से मेरे स्कूल को धन्यवाद।---आयुष्मिता दास , क्लास-११, माइकलनगर शिक्षानिकेतन हायर सेकेंडरी स्कूल.
---------------------------
इतने महीने के बाद अब हम ऑफलाइन क्लास अटेंड कर रहे हैं। आज क्लास आकर काफी खुशी महसूस हुई। अब पढ़ाई में और अधिक रूचि के साथ अच्छा और उत्साहित माहौल मिलेगा।---इप्सिता बर्मन, सेकंड ईयर छात्रा संस्कृत कॉलेज और यूनिवर्सिटी।
----------------------------
आज पहले दिन कोरोना प्रोटोकाल के पालन के साथ क्लास हुई। छात्राओं को काफी खुशी महसूस हुई है। वे इस समय का बेसब्री से इंतजार कर रही थी। -----विभा सिंह, शिक्षिका प्रभारी-सह-प्रधानाचार्य, मारवाड़ी बालिका विद्यालय.
----------------------------
-----
विद्यालय खुलने पर छात्रों में प्रसन्नता और जिज्ञासा की झलक स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है। हम सभी शिक्षकों का यह दायित्व है कि छात्रों की जिज्ञासा को शांत करने का हर संभव प्रयास करें।----प्रशान्त कुमार पाण्डेय, उच्च माध्यमिक अनुभाग प्रभारी श्रीदिगम्बर जैन विद्यालय.
--------------
----करीब २० माह बाद आज स्कूल में पहले जैसी रौनक दिखी। बच्चों में काफी खुशी नजर आई। अब वे अपने तमाम सवालों के जवाब प्राप्त कतर सकते हैं।--कुसुम जैन, हिन्दी शिक्षिका, दिगम्बर जैन बालिका विद्यालय....
कालेज में हर सरकारी नियमों के पालन के साथ आज छात्रों को प्रवेश दिया गया। मेन गेट पर सैनेटाइजर की व्यवस्था की गई थी। जिनके पास मास्क नहीं थे उन्हें मास्क दिया गया।----रूपलेखा चौधरी, यूनिट गल्र्स प्रेसीडेंट, चित्तरंजन कालेज.
----------------------
सरकार की ओर से 16 नवंबर से स्कूल-कालेज खोलने का फैसला स्वागतयोग्य कदम है। इससे छात्रों को पहले जैसी आफलाइन शिक्षा उपलब्ध हो सकेगी।---------दीपज्योति कर , वाइस प्रिसिंपल, चित्तरंजन कालेज.
------
आज 20 माह बाद अपने स्कूल आकर काफी अच्छा लगा। अपने पुराने मित्रों से मिलकर खुशी महसूस हुई। सभी टीचर्स ने काफी मदद की। क्लास में पढ़ाई और आनलाइन दोनों में काफी फर्क है। ------अदिति सिंह, क्लास-12, मारवाड़ी बालिका विद्यालय.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजUP Election 2022: सपा कार्यालय में आयोजित रैली में टूटा कोविड प्रोटोकॉल, लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में सपा नेताओं पर FIR दर्जGujarat Hindi News : दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्राओं समेत पांच की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.