scriptWEST BENGAL NEWS | WEST BENGAL-गणगौर महोत्सव का समापन | Patrika News

WEST BENGAL-गणगौर महोत्सव का समापन

विभिन्न गणगौर मंडलियों की ओर से शोभायात्रा निकली, बांगुर एवेन्यू नवयुवक संघ ने धूमधाम से मनाया गणगौर महोत्सव

कोलकाता

Published: April 07, 2022 01:32:08 pm

BENGAL NEWS-कोलकाता। होलिका दहन से ही शुरू राजस्थान के मुख्य लोकआस्था पर्व गणगौर महोत्सव का समापन बुधवार को हो गया। विभिन्न गणगौर मंडलियों की ओर से शोभायात्रा निकाली गई। गंगा घाटों पर विसर्जन हुआ। बड़ाबाजार के नींबूतल्ला में गणगोर मंडलियां जुटी और रात को भजन-कीर्तन के आयोजन हुए। उधर बांगुर एवेन्यू नवयुवक संघ ने संघ के संस्थापक सभापति गणेशदास छंगाणी के नेतृत्व में धूमधाम से गणगौर महोत्सव का आयोजन किया। जिसमें दमकल मंत्री सुजित बोस उपस्थित थे।आसपास के अंचलों से भारी संख्या में लोगों ने मां गवरजा के दर्शन किए। शोभायात्रा निकालकर देवीघाट पर विसर्जन हुआ।मुख्य अतिथियों में भीखाराम चान्दमल राजू के मालिक राज कुमार अग्रवाल (राजू बाबू), बैजनाथ मित्तल, शिवकिशन किराडू, गोपल सादानी थे। संघ की महिला विंग बिना केडिया के नेतृत्व ने कार्यक्रम को रंगारंग बनाया। बिना को गवरल 2022 पुरस्कार से सम्मानित किया गया। महिला विंग की पिंकी छंगाणी, सीमा डागा, रेखा पुरोहित, रिधी कनोडिया, कविता शर्मा, मेघा शर्मा, वीना खन्ना, रश्मी चौधरी, अनिता लाठ, कुमुद चौधरी, रंजना लुनिया सक्रिय रही। गवरजा माता कमेटी संरक्षक अशोक चुरीवाल, सभापति मदनमोहन डागा, उपसभापति जगदीश हर्ष, मंत्री संजिव केडिया समेत मदनमोहन दम्माणी, पियूष केडियाअभिषेक केडिया, किशोर पुरोहित आदि मौजूद रहे।गणगौर उत्सव राजस्थान और मध्य प्रदेश, गुजरात और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में मनाया जाता है। यह राजस्थान के सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है और पूरे राज्य में इसे बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है।
WEST BENGAL-गणगौर महोत्सव का समापन
WEST BENGAL-गणगौर महोत्सव का समापन
मुख्य बिंदु
मार्च से अप्रैल तक चलने वाले इस उत्सव की अवधि के दौरान महिलाएं भगवान शिव की पत्नी गौरी की पूजा करती हैं।यह त्योहार फसल, वसंत, प्रसव और वैवाहिक निष्ठा का जश्न मनाता है।अविवाहित महिलाएं एक अच्छा पति पाने के लिए माता गौरी का आशीर्वाद लेने के लिए उनकी पूजा करती हैं।
विवाहित महिलाएं स्वास्थ्य, कल्याण, सुखी वैवाहिक जीवन और अपने पति की लंबी उम्र के लिए उनकी पूजा करती हैं।जो लोग राजस्थान से कोलकाता, पश्चिम बंगाल चले गए थे, उन्होंने वहां गणगौर उत्सव मनाना शुरू किया। कोलकाता में, यह उत्सव अब 100 से अधिक वर्षों से मनाया जा रहा है।चैत्र के पहले दिन यह त्योहार शुरू होता है और 16 दिनों तक चलता है। नवविवाहिता के लिए यह पर्व मनाना अनिवार्य है। साथ ही अविवाहित लड़कियां इस त्योहार के दौरान 16 दिनों तक उपवास रखती हैं और हर दिन केवल एक बार भोजन करती हैं। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को इस पर्व का समापन होता है। इस अवधि के दौरान गणगौर मेले आयोजित किए जाते हैं।इस त्योहार के लिए माता गौरी की प्रतिमाएं मिट्टी से बनाई जाती हैं। कुछ राजपूत परिवारों में प्रतिष्ठित चित्रकारों द्वारा प्रतिवर्ष स्थायी लकड़ी की छवियों को चित्रित किया जाता है, जिन्हें इस त्योहार की पूर्व संध्या पर माथेरान के रूप में जाना जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Texas Shooting: अमरीकी राष्ट्रपति ने टेक्सास फायरिंग की घटना को बताया नरसंहार, बोले- दर्द को एक्शन में बदलने का वक्तजातीय जनगणना सहित कई मुद्दों को लेकर आज भारत बंद, जानिए कहां रहेगा इसका ज्यादा असरमहंगाई से जंग: रिकॉर्ड निर्यात से घबराई सरकार, गेहूं के बाद अब 1 जून से चीनी निर्यात भी प्रतिबंधितआंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलरिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगदिल्ली के नरेला में एनकाउंटर, बॉक्सर गैंग का शातिर शार्प शूटर अरेस्टESIC MTS Result 2022 : ESIC MTS फेज 1 का परिणाम जारी, ऐसे चेक करें स्कोरकार्डRajasthan : सिर्फ 5 दिन का कोयला शेष, छत्तीसगढ़ से जल्दी नहीं मिली मदद तो गंभीर बिजली संकट में डूबने की चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.