scriptWest Bengal -RD Barman remembered by Ananddhwani as a Sartaj of Music | West Bengal -आनंदध्वनि ने किया सुरों के सरताज पंचम दा को याद | Patrika News

West Bengal -आनंदध्वनि ने किया सुरों के सरताज पंचम दा को याद

कोलकाता समेत बंगाल के जिलों में आयोजित हुए कई कार्यक्रम
-मेलोडी किंग की मनाई 83वीं जयंती

कोलकाता

Published: June 27, 2022 11:47:22 pm

Kolkata.

West Bengal including Kolkata सुरों के सरताज पंचम-दा अर्थात राहुल देव बर्मन (आरडी बर्मन) का सोमवार को कोलकाता महानगर समेत राज्य के विभिन्न जिलों में बड़े धूमधाम के साथ 83वीं जयंती मनाई गई। आगरपाड़ा की आनंदध्वनि नामक संस्था ने उनके जन्मदिन के मौके पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया। इस मौके पर रोडियो, दूरदर्शन समेत अन्य रीयलिटी शो के कलाकारों को लेकर एक प्रतियोगिता कराई गई। इसमें 25 से लेकर 85 वर्ष के 38 प्रतियोगियों ने हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन दूरदर्शन (डीडी बांग्ला) के एडिटर अनिल कुमार श्रीवास्तव ने किया। इस मौके पर संस्था के सचिव रुमा सरकार, ताप्ती दत्ता, टीवी व विभिन्न चैनलों के तबला वादक अशोक दत्ता, संस्था के मुख्य सलाहकार शंकर नश्कर मौजूद थे। शंकर नश्कर ने बताया कि प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले हर उम्र के कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति देकर पंचम दा को याद किया।
West Bengal -आनंदध्वनि ने किया सुरों के सरताज पंचम दा को याद
West Bengal -आनंदध्वनि ने किया सुरों के सरताज पंचम दा को याद
हर उम्र के लोगों को किया है मंत्रमुग्ध

आनंदध्वनी के कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले वक्ताओं का कहना था कि आरडी बर्मन ने अपने संगीत से हर दौर के लोगों को मंत्रमुग्ध किया है। उन्होंने आशा भोसले और किशोर कुमार की गायिकी का बहुत अच्छे से इस्तेमाल किया। कहा जाता है कि पंचम दा के संगीत के बदौलत ही किशोर कुमार और आशा भोसले संगीत की दुनिया के सुपरस्टार बन पाए।
सोहबत में की संगीत की समझ विकसित

पंचम दा का पूरा नाम राहुल देव बर्मन है। वे संगीत से रचे-बसे माहौल में पले-बढ़े थे। पिता सचिन देव बर्मन (एसडी बर्मन) की सोहबत में पंचम दा ने गीत-संगीत की समझ विकसित की थी। उनका जन्म 27 जून 1939 को हुआ था। वे अगर आज जीवित होते तो 83 साल के होते।
जब पूरी तरह डूब गए प्यार में

आरडी बर्मन की जिंदगी में एक ऐसा दौर था, जब वे संगीत के साथ-साथ आशा भोसले के प्यार में पूरी तरह डूबे हुए थे। आशा भोसले उम्र में पंचम दा से 6 साल बड़ी थीं। पंचम दा ने जब उनके सामने शादी का प्रस्ताव रखा तो आशा ने उसे ठुकराने में जरा भी देर नहीं की। दरअसल, वे अपने पति गणपतराव भोसले के निधन के गम से उबर नहीं पा रही थीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीMumbai News: मुंबई के माहिम में मीठी नदी में दो युवक डूबे, एक की लाश बरामद और दूसरे की तलाश जारीRaju Srivastava को अब तक नहीं आया होश, डॉक्टर बोले - 'ब्रेन पर हुआ असर'आज से वैक्सीनेशन सेंटर में उपलब्ध होंगे कॉर्बेवैक्स टीके, जानिए दूसरी डोज के कितने महीने बाद लगेगाअरब सागर में पलटा भारतीय जहाज, पाकिस्तानी नौसेना ने 9 क्रू मेंबर्स को बचाया, एक का शव बरामदआज पटरियों पर दौडे़गी तीसरी वंदे भारत ट्रेन, रेल मंत्री पहुंच रहे हैं कोच फैक्‍ट्रीराखी के दिन भाई की शहादत की खबर सुन बहन हुई बेसुध, मासूम बच्चों को भी नहीं पता कि पापा नहीं रहेदिल्लीः पहाड़ी राज्यों में बारिश से यमुना का जलस्तर डेंजर लेवल के करीब पहुंचा, 13 से 16 अगस्त तक बाढ़ की चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.