West Bengal : सब्यसाची दत्ता का दलबदल से इंकार

  • उन्होंने कहा कि ये कोरी अफवाह है और वे भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जा रहे हैं।

By: Ram Naresh Gautam

Published: 13 Jun 2021, 06:47 PM IST

कोलकाता. भाजपा नेता सब्यसाचा दत्ता की तृणमूल में घर वापसी की तेज होती अटकलों के बीच शनिवार को उन्होंने कहा कि ये कोरी अफवाह है और वे भाजपा छोड़कर कहीं नहीं जा रहे हैं।

दत्ता ने कहा कि ये सब अटकलें हैं। न ही किसी नेता ने उनके तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने की बात कही है और न ही उन्होंने किसी से कहा है कि वे तृणमूल कांग्रेस में जा रहे हैं।

वे भाजपा के साथ हैं। फिलहाल पार्टी छोड़कर किसी और राजनीतिक दल में शामिल होने की उनकी कोई योजना नहीं है।

मंत्री सुजीत बोस ने किया विरोध
तृणमूल कांग्रेस नेता और राज्य के दमकल मंत्री सुजीत बोस ने शनिवार को मुकुल रॉय के तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद पार्टी छोड़कर भाजपा में गए सब्यसाची दत्ता की संभावित घर वापसी का विरोध किया है।

उन्होंने अपने करीबियों से कहा कि सब्यसाची को क्यों स्वीकार करेंगे। जब उनसे पूछा गया कि क्या वे पार्टी के फैसले का विरोध करेंगे।

इसके जवाब में उन्होंने कहा कि इस बारे में उनका अपना मत है। पार्टी पूछेगी तो वे पार्टी को बताएंगे। पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी से आग्रह है कि वे इस बारे में सही फैसला करें।

शुभेन्दु पर टूट रोकने का जिम्मा
इधर, मुकुल रॉय के अलग होते ही भाजपा विधायक दल को टूट से बचाने का जिम्मा नेता प्रतिपक्ष शुभेन्दु अधिकारी को दिया गया है। हाल ही में उन्होंने केन्द्रीय नेतृत्व से मुलाकात की है।

भाजपा के एक विधायक के मुताबिक उन्हें मुकुल राय ने फोन किया था, प्रस्ताव भी दिया है। जिसकी जानकारी उन्होंने शुभेन्दु अधिकारी को दे दी है। राज्य विधानसभा में भाजपा के अभी 75 विधायक हैं। मुकुल रॉय इस्तीफा देते हैं तो यह संख्या 74 हो जाएगी।

सब्यसाची, राजीव, प्रबीर घोषाल को लेकर कयास
सॉल्टलेक के पूर्व मेयर-विधायक सब्यसाची दत्त, पूर्व मंत्री राजीव बनर्जी व उत्तर पाड़ा के पूर्व विधायक प्रबीर घोषाल की घर वापसी को लेकर भी कयास चल रहे हैं।

BJP
Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned