scriptWEST BENGAL WEATHER NEWS | WEST BENGAL WEATHER ALERT 2023-मौसम का बदला मिजाज | Patrika News

WEST BENGAL WEATHER ALERT 2023-मौसम का बदला मिजाज

locationकोलकाताPublished: Nov 18, 2023 05:28:11 pm

Submitted by:

Shishir Sharan Rahi

मौसम में अचानक बदलाव से कोलकाता महानगर में अब गुलाबी सर्दी का अहसास होने लगा है। उधर वेलिंगटन समेत अन्य स्थानों पर गर्म कपड़ों का बाजार लगना शुरू हो गया। डॉक्टरों ने बुजुर्गों, बच्चों को सतर्क रहने की सलाह दी है

WEST BENGAL WEATHER ALERT 2023-मौसम का बदला मिजाज
WEST BENGAL WEATHER ALERT 2023-मौसम का बदला मिजाज
कोलकाता. मौसम में अचानक हुए बदलाव से कोलकाता महानगर में अब गुलाबी सर्दी का अहसास होने लगा है। उधर वेलिंगटन समेत अन्य स्थानों पर शुक्रवार से ही गर्म कपड़ों का बाजार लगना शुरू हो गया। तापमान में बदलाव पर डॉक्टरों ने बुजुर्गों, बच्चों को सतर्क रहने की सलाह दी है। उधर कोलकाता में शुक्रवार को कहीं कहीं हल्की बूंदाबांदी हुई। सामान्य तापमान में गिरावट रहने से लोगों को हल्की सर्दी का अहसास हुआ। इस माहौल के बीच डॉक्टरों का कहना है कि अभी मौसम बदल रहा है और ऐसे समय में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति विशेष ध्यान देते हुए सतर्कता रखनी चाहिए।
----

भारी पड़ सकती है लापरवाही
---

हल्की सी लापरवाही खास तौर पर बच्चों और बुजुर्गों के लिए भारी पड़ सकती है। दवा विक्रेता प्रदीप अग्रवाल ने बताया कि अभी जितने भी लोग दवा की पर्चियां लेकर आ रहे हैं ज्यादातर में डॉक्टरों द्वारा लिखी गई सर्दी जुकाम की दवाइयां है। जनरल फिजिशियन डॉ अभिमन्यु सिंह पोद्दार ने बताया कि अभी सर्दी, खांसी जुकाम के साथ बुखार के मरीज भी आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसका मुख्य कारण वायरल इंफेक्शन है इसलिए लोगों को इससे बचाव के लिए बजाय किसी घरेलू नुस्खे के विशेषज्ञ डॉक्टर से सलाह लेकर इलाज कराना चाहिए और बेहतर स्वास्थ्य के लिए हर सम्भव प्रयास करना चाहिए। पोद्दार ने बताया कि ऐसे मौसम में सर्दी खांसी और बुखार के साथ साथ गला बैठने की शिकायत भी हो सकती है।
----
रोज गर्म पानी का प्रयोग करना लाभदायक

उन्होंने कहा कि हर उम्र के व्यक्ति को प्रतिदिन कम से कम एक बार गर्म पानी से गरारा करना चाहिए। इससे जहां गला साफ होता है वहीं जाम हुआ कफ भी बाहर निकल जाता है। वरिष्ठ जनरल फिजिशियन डॉ भाग चंद टावरी के अनुसार जब जब मौसम में परिवर्तन आता है तब तब लोगों को इस तरह की शिकायतें होती है। यदि मौसम के अनुसार खान पान पर ध्यान दिया जाय तो वायरल इंफेक्शन होने की संभावना काफी कम हो जाती है और व्यक्ति स्वस्थ रह सकता है।

ट्रेंडिंग वीडियो