बंगाल में 15 नवम्बर तक आएगी सर्दी, कहीं-कहीं कुहासा शुरू

दुर्गापूजा की समाप्ति के बाद पश्चिम बंगाल (West Bengal) के विभिन्न हिस्सों में कुहासा देखा जा रहा है। घरों में एसी की जरूरत खत्म हो गई है। पंखे चलाने पर हल्की चादर ओढऩे की जरूरत महसूस हो रही है। राज्य में 15 नवम्बर तक सर्दी आने की संभावना जताई जा रही है।

By: Paritosh Dube

Updated: 27 Oct 2020, 02:27 PM IST

कोलकाता. शारदीय नवरात्र के खत्म होते ही बंगाल में सर्दी का अहसास होने लगा है। लोगों के घरों में एसी बंद कर दिए गए हैं। रात में पंखे चलाने पर हल्की चादर ओढऩे की जरूरत महसूस की जा रही है। कई जिलों में सुबह-सुबह कुहासा देखा जा रहा है। जो दिन चढऩे के बाद गायब हो जाता है। सर्दी के लिए तैयार हुए अनुकूल कारकों के कारण मौसमविद संभावना जता रहे हैं कि प्रदेश में 15 नवम्बर तक सर्दी जोर पकड़ेगी।
मौसमविद् सुजीत कर के मुताबिक नवम्बर के पहले पखवाड़े के अंतिम दिनों में राज्य के विभिन्न जिलों में सर्दी का अहसास बढ़ जाएगा। उस समय कोलकाता में भले ही सर्दी न लगे पर दक्षिण बंगाल के अन्य जिलों में गर्म कपड़े निकालने पड़ेंगे।
उनके मुताबिक हिमालय के कई हिस्सों में बर्फबारी शुरू हो चुकी है । जिस वजह से सर्द हवाएं शुरू हो गई हैं। जो उत्तर बंगाल व दक्षिण बंगाल के कई जिलों में प्रवेश कर रही हैं। हालांकि बंगाल की खाड़ी में अभी भी निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है, जिस वजह से सर्द हवा अभी बंगाल की खाड़ी की ओर नहीं जा पा रही है। मौसम वैज्ञानिकों का मानना है कि नवंबर के पहले हफ्ते में बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ निम्न दबाव का क्षेत्र खत्म हो जाएगा। जिसके बाद उत्तर की सर्द हवा के बंगाल की खाड़ी की ओर जाने का रोढ़ा भी हट जाएगा। वहीं अलीपुर स्थित मौसम विभाग राज्य में सर्दी के प्रवेश को लेकर अभी भी कोई भविष्यवाणी नहीं करना चाहता है। मौसम विभाग के मुताबिक अभी राज्य में तैयार हुआ मौसम सर्द हवाओं के प्रवेश के अनुकुल है।

Paritosh Dube Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned