भाजपा क्यो कर रही है बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग

भाजपा क्यो कर रही है बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग

MANOJ KUMAR SINGH | Publish: Jul, 13 2018 09:33:24 PM (IST) Kolkata, West Bengal, India

राज्य में 13 दलितों की हत्या हुई, लेकिन किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई- डॉ. विजय

 

 

हाल के दिनों में राज्य में 13 दलितों की हत्या हुई है, लेकिन अब तक किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। बंगाल में जंगलराज कायम है। केन्द्र सरकार बंगाल मामले में हस्तक्षेप करे और ममता सरकार को बर्खास्त कर राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करे
कोलकाता

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. विजय सोनकर ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में जंगलराज होने का आरोप लगाया और ममता सरकार को बर्खास्त कर राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की। डॉ. सोनकर ने कहा कि बंगाल में भयावह स्थिति है। यहां दलितों पर हमले हो रहे हैं, उनके घर जलाए जा रहे हैं और हत्या कर के उन्हें लटका दिया जा रहा है। हाल के दिनों में राज्य में 13 दलितों की हत्या हुई है, लेकिन अब तक किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। बंगाल में जंगलराज कायम है। केन्द्र सरकार बंगाल मामले में हस्तक्षेप करे और ममता सरकार को बर्खास्त कर राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करे। वे यहां प्रदेश भाजपा मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। डॉ. सोनकर पिछले कुछ दिनों में बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग करने वाले पार्टी के पहले राष्ट्रीय नेता हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं है। ममता सरकार यहां पार्टीतंत्र चला रही है। दूसरे राजनीतिक पार्टियों के समर्थकों और कार्यकर्ताओं को दबाया जा रहा है, सैकड़ो दलितों के घर उजाड़ दिए गए है। उन्हें प्रताडि़त किया जा रहा है। पुरुलिया जिले के बलरामपुर में भाजपा के आदिवासी कार्यकर्ताओं को हत्या कर फंदे से लटका दिया गया था। इसके अलावा पंचायत चुनाव के दौरान पार्टी अन्य कार्यकर्ताओं पर हमले किए गए । उनकी हत्या कर पोस्टर लगा कर बताया जा रहा है कि उक्त व्यक्ति भाजपा करता था। इसलिए उनकी हत्या की गई है। इसके बावजूद पुलिस अपराधियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। अपराधियों को गिरफ्तार कर उन्हें सजा दिलाने के बजाए राज्य की पुलिस उनका बचाव कर रही है और तृणमूल कांग्रेस का पक्ष ले कर भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं के खिलाफ झूठे मामले दर्ज कर उन्हें परेशान कर रही है। डॉ. सोनकर ने कहा कि राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार राज्य में हो रहे अपराधों पर काबू पाने में पूरी तरह से फेल हो गई है। अब तृणमूस कांग्रेस को राज्य की सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। बंगाल कर हिंसा की राजनीति से मुक्त करने और लोकतंत्र को स्थापित करने के लिए केन्द्र सरकार के हस्तक्षेप करने और ममता बनर्जी की सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लागू करना ही एक मात्र रास्ता है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned