बंगाल में आखिर क्यों लगाई वृद्धा ने लगाई इच्छामृत्यु की गुहार ?

- एसडीओ ने परिजनों को लगाई फटकार, दी कार्रवाई की चेतावनी

- बंगाल: दक्षिण 24 परगना के काकद्वीप इलाके की मार्मिक घटना

By: Jyoti Dubey

Published: 08 Dec 2019, 04:01 PM IST

कोलकाता. दक्षिण 24 परगना जिले के काकद्वीप थाना क्षेत्र के नारायणपुर गांव की एक वृद्धा ने तंग आकर एसडीओ से इच्छामृत्यु की गुहार लगाई है। 90 वर्षीय तारारानी डगर ने एसडीओ सौभिक चट्टोपाध्याय को पत्र देकर अपने साथ किए जा रहे मानसिक व शारीरिक अत्याचार की शिकायत की है और उनसे उपयुक्त कदम उठाने की अपील की है। साथ ही पत्र में लिखा कि अगर सख्त कदम नहीं उठाए गए तो उसे मरने की अनुमति दी जाए।

स्थानीय सूत्रों के मुताबिक वृद्धा की इकलौती पुत्री सुदेक्षा डगर पति के साथ विवाद हो जाने के बाद अपने मायके में अपनी पुत्री के साथ रहती है। सुदेक्षा की पुत्री का वकील पति तपन माइती घर जमाई बनकर रहता है। आरोप है कि तपन ने धीरे-धीरे वृद्धा की सारी संपत्ति हड़प ली। संपत्ति का कुछ हिस्सा बेचकर उसने मकान बनवाया। फिर उसने वृद्धा को उस मकान से निकाल दिया और बाहर गोशाला में रहने को मजबूर किया।

तपन ने वृद्धा को खाना-पीना देना भी बंद करा दिया। बीमार होने पर इलाज भी नहीं कराता था। वृद्धा ने बताया कि कुछ महीनों तक उसने अपने जेवर बेचकर दवा और खाने का इंतजाम किया, फिर उसे भीख मांगने पर मजबूर होना पड़ा। ऐसे में उसके सामने मौत का दामन थामने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं दिखता है।

------------------

- एसडीओ ने की पहल :

वृद्धा का पत्र पाते ही एसडीओ सौभिक चट्टोपाध्याय ने सारे परिजनों को अपने कार्यालय में बुलाया। उन्होंने तपन व परिवार के अन्य सदस्यों को फटकार लगाई। वृद्धा को पूरे सम्मान के साथ अपने साथ घर ले जाने को कहा। साथ ही दोबारा ऐसी शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने स्थानीय प्रशासन को उक्त परिवार और वृद्धा पर नजर रखने के निर्देश दिए।

Jyoti Dubey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned