West Bengal: भतीजे अभिषेक ने जो कटमनी ली है उसे क्या लौटाएंगी ममता : कैलाश विजयवर्गीय

विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के छोटे नेताओं ने लोगों से जो कटमनी ली है उसका एक मोटा हिस्सा ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के पास एवं पार्टी के अन्य बड़े नेताओं के पास गया है। यही कटमनी का रूल होता है।

By: Ashutosh Kumar Singh

Published: 24 Jun 2019, 10:53 PM IST

नई दिल्ली/कोलकाता

भाजपा महासचिव व पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कटमनी के मु²े पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अभिषेक बनर्जी ने जो कटमनी ली है उसका क्या होगा। ममता बनर्जी क्या वो पैसे लौटाएंगी। दिल्ली पार्टी मुख्यालय में अलीपुरदुआर जिले के कालीचीनी के विधायक विल्सन चामपामारी और दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद की अध्यक्ष लिपिका राय समेत 10 जिला परिषद सदस्यों के पार्टी में शामिल होने के मौके पर संवादताओं को संबोधित करते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के छोटे नेताओं ने लोगों से जो कटमनी ली है उसका एक मोटा हिस्सा ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के पास एवं पार्टी के अन्य बड़े नेताओं के पास गया है। यही कटमनी का रूल होता है।

------

कटमनी के मुद्दे पर माकपा-कांग्रेस का विधानसभा से वाकआउट

राज्य में बढ़ती राजनीतिक हिंसा और सत्तारूढ़ दल के नेताओं की कटमनी वसूली के खिलाफ कांग्रेस और माकपा के विधायकों ने सोमवार को विधानसभा में जोरदार हंगामा किया और सदन से वाकआउट किया। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने के बाद दोपहर 12:15 बजे के करीब माकपा विधायक दल के नेता सूजन चक्रवर्ती और कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेता नेपाल महतो और मनोज चक्रवर्ती ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर विरोध करना शुरू किया। उत्तर 24 परगना के जगदल भाटपाड़ा, संदेशखाली में नरसंहार समेत गोलीबारी आदि की घटनाओं को लेकर ये विधायक नारेबाजी करने लगे, लेकिन इनकी नारेबाजी को दरकिनार करते हुए विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने कार्यवाही जारी रखा।

इस बीच सत्ता पक्ष के कुछ विधायकों ने नारेबाजी कर रहे विपक्षी विधायकों के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद हंगामा बढ़ गया और कांग्रेस और माकपा के विधायक से बाहर निकल गए। भाजपा के विधायकों ने वाकआउट नहीं किया, लेकिन कांग्रेस और माकपा के विधायकों के विरोध प्रदर्शन का समर्थन किया।
भाजपा विधायक दल के नेता मनोज टीगा ने कहा कि हमलोग इस विरोध प्रदर्शन का समर्थन कर रहे हैं।

कांग्रेस और माकपा के विधायकों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और अन्य नेताओं के भ्रष्टाचार को लेकर जमकर नारेबाजी भी की। उन्होंने सरकार से मामले पर स्वेत पत्र जारी करने की मांग की। विरोध प्रदर्शन कर रहे विधायकों के हाथ में पोस्टर थे। जिस पर लिखा गया था कि मुख्यमंत्री की ओर से बनाई गई पेंटिंग एक करोड़ 86 लाख में बेची गई। उसमें कितना कटमनी लिया गया था। अन्य पोस्टरों में ‘ममता मतलब कटमनी’, ‘जिसका रुपया जल्दी लौटाना होगा’, ‘ राज्य सचिवालय में कटमनी लौटाने के लिए अलग से काउंटर खोलना होगा ’आदि लिखा हुआ था।
विधायक नारेबाजी कर रहे थे कि पुलिस ने गोली क्यों चलाई, जबाब दो। मुख्यमंत्री चुप क्यों हैं, जवाब दो। हर रोज राज्य में हत्याएं राजनीतिक वजह से क्यों हो रही है, जवाब दो।

Show More
Ashutosh Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned