श्री श्वेताम्बर स्थानकवासी जैन समाज के शिक्षा-सेवा कार्य दूसरों के लिए है प्रेरणा स्रोत : राज्यपाल

-शिक्षा-सेवा-साधना के स्वर्णिम नौ दशक का समारोह आयोजित

-रंगारंग कार्यक्रम से झूम उठे दर्शक

By: Renu Singh

Published: 07 Jan 2019, 02:57 PM IST

श्री श्वेताम्बर स्थानकवासी जैन सभा की ओर से पिछले नौ दशक से किए जा रहे शिक्षा-सेवा व साधना के कार्य दूसरें लोगों के लिए प्ररेणा स्रोत है। जैन समाज के इन 90 सालों का कार्य राज्य के विकास का एक हिस्सा है। जैन समाज ने निम्न व निम्न मध्यमवर्गीय लोगों के लिए काम किया है। आत्मके न्द्रित समय में लोककल्याण की यह भावना जितनी विकसित होगी, हम सही अर्थो में स्वस्थ, शिक्षित, समन्वय भारत की कल्पना साकार होगी। यह सेवा यात्रा शताब्दी पूर्ण तक, त्रि-शताब्दी तक जाय। उम्मीद है कि आगे वर्षों -वर्षों तक सेवा कार्य जारी रहेगा। रविवार को विश्व बांग्ला कन्वेंशन सेंटर में श्री श्वेताम्बर स्थानकवासी जैन समाज के शिक्षा-सेवा-साधना के नौ दशक समारोह में राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने यह बातें कहीं। सभा के अध्यक्ष सरदारमल कांकरिया ने स्वागत भाषण देते हुए अब तक की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। इस समारोह के अध्यक्ष चंद्रवदन देसाई, विशिष्ट अतिथि भगवान दास अग्रवाल, विशिष्ट अतिथि रिखभचंद्र जैन सहित कई हस्तियां समारोह में उपस्थित हुर्इं। सभा की ओर से सभी का स्वागत किया गया। इस अवसर पर संयोजक रिधकरण बोथरा, प्रदीप पटवा, सचिव अशोक मिन्नी, सुन्दरलाल दुगड़, सुरेन्द्र बांठिया, विनोद कांकरिया, सोहनराज सिंघवी, विनोद मिन्नी सहित सभा के सभी सदस्य सक्रिय रहे।

विशिष्टजनों को मिला सम्मान

सभा की ओर से ट्रस्टी पन्नालाल कोचर को उनके सेवा कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। उन्हें स्मारक चिन्ह व पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया गया। राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने सम्मान प्राप्त करने वाले पन्नालाल कोचर के कार्यों की सरहाना की। इसके साथ ही सभा की ओर से विद्यालय गौरव सम्मान से डॉ. पवन गोयनका को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जैन समाज के बड़े उद्योगपति, समाजसेवी सहित समाज के कई विशिष्टजन उपस्थित थे।

रंगारंग कार्यक्रम से झूम उठे दर्शक

शिक्षा-सेवा-साधना के 9 दशक पूर्ति इस कार्यक्रम में समाज के संचालित संस्थानों के बच्चों ने एक से एक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। श्री जैन विद्यालय गल्र्स की छात्राओं ने भारत के विविध रंग की शानदार प्रस्तुति दी। इसके साथ ही कुसुमदेवी सुन्दरलाल दुग्गड़ जैन डेंटल कॉलेज व अस्पताल की छात्राओं ने नृत्य प्रस्तुत किया। पाश्चात्य व भारतीय संस्कृति के मिक्स गानों पर एक से एक नृत्य पेश किए गए। कन्वेंशन सेंटर का पूरा हॉल लोगों से खचाखच भरा था।

 

Renu Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned