नौकर बन करते काम और ऐसे उड़ा देते लोगों के होश


जांच में बड़े रैकेट का पर्दाफाश: नौकर बन घर में करते काम और ले उड़ते कीमती सामान

कोलकाता(Kolkata)

न्यूअलीपुर थाना इलाके में व्यवसायी के घर से 18 लाख रुपए और सोने के आभूषण चोरी होने के मामले में पुलिस ने एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया है। ये घरों में नौकर बन काम करते और लंबा हाथ मारने के बाद फरार हो जाते थे। इस रैकेट के तार बिहार के बांका जिले से जुड़े हुए हैं। पुलिस ने आरोपी सहित 6 जने को गिरफ्तार किया है। इस रैकेट से जुड़े अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि उनके परिवार के 29 जने महानगर के विभिन्न इलाके में नौकर व नौकरानी का काम करते हैं।

पहले भी गिरफ्तार हो चुका है आरोपी
व्यवसायी के घर चोरी के आरोपी पवन यादव को साल 2014 में विधाननगर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। अक्टूबर महीने में वह अलीपुर इलाके के एम ब्लॉक में व्यवसायी के घर में नौकर के रूप में काम करने लगा। उसे उसके रिश्तेदार नीतीश यादव ने काम पर रखवाया था। 21 अक्टूबर को व्यवसायी ने न्यू अलीपुर थाने में घर से 18 लाख रुपए और सोने के आभूषण चोरी होने की शिकायत दर्ज करायी थी।

रैकेट का पर्दाफाश

आरोपी तक पहुंचने के लिए पुलिस उसकी मां से पूछताछ की और उसके फोन की जांच की। फोन से कई संदेहास्पद सम्पर्क नम्बर मिले। जिस पर बार बार फोन किया गया था। सबसे ज्यादा कामेश्वर और सुनीता और प्रेम बहादुर सिंह से मोबाइल फोन पर बात हुई थी। कामेश्वर मुख्य आरोपी पवन यादव का जीजा है। ये तीनों संदेह के घेरे में थे ।

आसनसोल से मिला सोने का हार
प्रेम बहादुर सिंह आसनसोल के कुल्टी इलाके का रहने वाला है। पवन ने चोरी के आभूषणों को उसी को बेचने के लिए दिया था। पुलिस कुल्टी में छापेमारी कर उसके घर से ३५ भरी सोने के हार को बरामद किया। इस मामले में पुलिस ने प्रेमबहादुर और उसके एक सहयोगी योगेश दास को गिरफ्तार किया। उनसे पूछताछ की। आरोपियों से पूछताछ में कामेश्वर और उसकी पत्नी संगीता की संलिप्ता का खुलासा हुआ। पुलिस ने इन दोनों को भी गिरफ्तार कर लिया।

पंजाब से आरोपी गिरफ्तार

कामेश्वर और संगीता से पूछताछ में पुलिस को नीतीश और पवन के संबंधों का खुलासा हुआ।पता चला कि ये दोनों दिल्ली में है। दिल्ली छापेमारी करने के पहले ही ये दोनों वहां से पंजाब भाग गए। लोकेशन पता कर पुलिस ने पटियाला से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को ट्रांजिट रिमांड पर कोलकाता लाया जा रहा है।

संलिप्तता आई सामने
आसनसोल के विभिन्न इलाके से सोने के कारोबार से जुड़े 11 की संलिप्तता सामने आई है। आरोप है कि ये लोग चोरी के आभूषण खरीदते हैं। इनको और आरोपियों को आमने सामने बैठाकर पूछताछ करने पर चोरी के आभूषण खरीदने और बेचने का खुलासा है।

Rakesh Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned