बिग ब्रेकिंग : हृदय घात से आइटीबीपी के जवान की मौत

देर रात आईटीबीपी के डीआईजी कार्यालय में हवलदार की हृदयघात होने से मौके पर ही जवान की मौत हो गई। जवान हिताचल प्रदेश का रहने वाला था।

By: Badal Dewangan

Published: 07 Jun 2018, 03:54 PM IST

कोण्डागांव. कोण्डागांव जिले के आईटीबीपी के डीआईजी कार्यालय में पदस्थ जवान की दिल का दौरा पडऩे से मौत हो गई है। जवान की मौत के बाद जवान को पुलिस के हाथ में सौंप दिया गया जिसे पोस्टमार्डम के बाद पुलिस ने जवान को आईटीबीपी को वापस सौंप दिया है।

हृदयघात आने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई
मिली जानकारी के अनुसार कोण्डागांव शहर में स्थित आइटीबीपी कैंप के डीआईजी कार्यालय में पदस्थ हवलदार कुलदीप सिंह जो कि हिमाचल प्रदेश का रहने वाला है को देर रात हृदयघात आने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। अचानक हुई इस मौत से पूरे कार्यालय में हड़कंप मच गया। वहा मौजूद लोगों को इस हृदयघात के बारे में पता नहीं चला तो जवानों ने तुरंत एंबुलेंस को फोन किया और जवान को अस्पताल ले गए। जहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने करवाया पोस्टमार्टम
देर रात हुई इस घटना के बाद जवानों ने इस घटना की जानकारी दी फिर वहां पुलिस पहुंची पुलिस ने घटना को अपने जांच में लिया और पोस्टमार्डम होने के बाद शव को आईटीबीपी के जवानों को सौंप दिया गया।

ये भी पढ़े
बचेली. पुलिस ने सर्चिंग के दौरान एक महिला नक्सली सहित 4 माओवादियों को पकडऩे में सफलता पाई है। बताया जा रहा है कि ये सभी नक्सली चोलनार ब्लास्ट की घटना को अंजाम देने में शामिल थे। जिसमें सात जवानों की हत्या हो गई थी। और ब्लास्ट के बाद नक्सली जवानों के हथियार भी लेकर भाग गए थे। बताया जा रहा है कि, इन नक्सलियों के पास से दो टिफिन बम और दो डेटोनेटर भी पुलिस ने बरामद किया है।

सर्चिंग के दौरान पुलिस ने घेराबंदी कर इन चारों माओवादियों को पकड़ा
मिली जानकारी के अनुसार किरंदुल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव के घने जंगलों में पुलिस सर्चिंग के दौरान एक महिला नक्सली सहित कुल 4 माओवादियों को पकडऩे में सफलता पाई है। सर्चिंग के दौरान पुलिस ने घेराबंदी कर इन चारों माओवादियों को पकड़ा है। पुलिस का कहना है कि, ये सारे आरोपी भी चोलनार ब्लास्ट में शामिल थे।।

ये सामान हुए बरामद
सर्चिंग के दौरान किरंदुल थाना से निकली पार्टी ने इन चारों नक्सलियों के पास से दो डेटोनेटर व दो टिफिन बम बरामद हुए है। बताया जा रहा है कि, चोलनार ब्लस्ट में इनका भी का हाथ था।

Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned