CG Human Story- बारूद के बीच में ऑस्कर नामित फिल्म न्यूटन का कलाकार समोसा बेच कर रहा जीवनयापन

कोराबेड़ा का रहने वाला सुक्कू आगे की पढ़ाई करना चाहता है, लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से घर परिवार से निकल रोजी-रोटी कमाने में जुट गया।

By: Badal Dewangan

Published: 10 Feb 2018, 12:32 PM IST

रामाकान्त सिन्हा/कोण्डागांव. ऑस्कर की दौड़ में शामिल हो चुकी बॉलीवुड फिल्म 'न्यूटनÓ में बाल कलाकार के रूप में अपनी कला का जादू बिखेर चुका आदिवासी युवक सुक्कु नेताम अपने परिवार की आजीविका के लिए जिले के माओवाद प्रभावित इलाके बयानार में समोसा बेचने को मजबूर है। माध्यमिक तक की पढ़ाई करने के बाद व पढ़ाई छोड़ काम की तलाश करने लगा। काम मिला भी तो माओ इलाके में। कोराबेड़ा का रहने वाला यह आदिवासी युवक अपनी आगे की पढ़ाई तो करना चाहता है, लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से परिवार का साथ देना घर से निकल रोजी-रोटी कमाने में जुट गया। हमारी मुलाकात इससे बयानार के एक होटल में समोसा बनाते समय हुई।

क्वार्डिनेटर दृश्यम फिल्म प्रोडक्शन के इशरार अहमद ने बताया कि, सुक्कु के टैलेंट को मुंबई से आये कास्टिंग डायरेक्टर ने ही पहचानते उसका चयन अभिनय के लिए किया। इलाके में कई तरह के कलाकार हैं, जिन्हें मंच नहीं मिल पा रहा। इलाके में बॉलीवुड फिल्मों के लिए आपार संभावनाएं है।

अभिनय को बनाना चाहता है पेशा
अभिनय को अपनी रोटी-रोटी का जरिया बनाने की सोच रखने वाले इस युवक को परिवार की आर्थिक तंगी ने इतना परेशान किया कि वह अभिनय छोड़ मजदूरी करने लगा है। उसने बताया कि यदि उसके परिवार की आर्थिक स्थिति सुधर जाए तो वह पढ़ाई के साथ ही अभिनय को अपना जीवन निर्वाह का जरिया बनाने मेहनत करता। इस युवक की कलाकारी को पहचान अपने साथ फिल्म में बाल कलाकार के रूप में अभिनय के लिए ले जाने वाले खीरेंद्र यादव ने बताया कि सुक्कु के हुनर को देख उसने उसका चयन किया। सुक्कु को हल्बी व गोंडी बोली की अच्छी समझ होने के साथ ही इस बोली के कई लोकगीत का गायन करता है। ग्रामीण इलाके से होने के बाद भी उसे किसी बात की कोई झिझक नहीं हैं।

मान-सम्मान से मिली खुशी
सुक्कु ने बताया, फिल्म न्यूटन में काम करने के दौरान उसे मिले मान-सम्मान व मानदेय से वह काफी संतुष्ट व खुश था, लेकिन अभिनय को कैरियर बनाने के सपने की जगह परिवार का पेट पालन मजदूरी करना पड़ा। उसकी चाह है इस तरह की कोई फिल्म बस्तर से निर्मित हो और उसे काम करने का मौका मिले।

Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned