प्रदेश अध्यक्ष ने कांग्रेस कार्यकर्ता को पहनाया चप्पल, कहा - ऐसे जाबाज साथी को सलाम जिसने...

जीत के साथ 25 साल बाद प्रण हुआ पूरा, जनपद सदस्य को पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने पहनाई चप्पल .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 02 Feb 2020, 03:37 PM IST

कोंडागांव। छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव जारी है। दो चरण के मतदान हो चुके है और कई ग्राम पंचायतों के सरपंच चुने जा चुके है। इसी बीच रविवार को कोण्डागांव विधायक और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष मोहन मरकाम ने अपने एक कार्यकर्ता को कांग्रेस पार्टी का सच्चा सिपाही बताते हुए उसे अपने हाथ से चप्पल पहनाते हुए फ़ोटो अपने फेसबुक में अपलोड किया है।

चुनाव जीतने के लिए लोग न जाने क्या-क्या हथकंडा अपनाते हैं, जनपद सदस्य चुने गए एक प्रत्याशी ने जीत के लिए एक ऐसा संकल्प लिया था। जो अब 25 साल बाद उनकी जीत के साथ टुटा है। दरअसल कोंडागांव जिले के घाडागांव से जनपद सदस्य बने बुधराम कश्यप ने 25 वर्ष पूर्व प्रण किया था जब तक जनपद सदस्य नहीं बन जाते तब तक चप्पल नहीं पहनेंगे।

बुधराम 25 साल तक नंगे पैर रहे और अब जनपद चुनाव जीतने के बाद उनकी प्रतिज्ञा टूटी और उन्होंने चप्पल पहनी। पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने अपने हाथों से उन्हें चप्पल पहनाया और जीत की बधाई दी। 25 वर्षों बाद भाजपा के गढ़ को ध्वस्त कर ना केवल स्वयं जनपद सदस्य मनोनीत हुए बल्की ग्राम पंचायत घोडागांव, माकडी मे भी सरपंच पद मे कांग्रेस समर्थीत प्रत्याशी को काबिज कराने मे सफल हुए।

प्रदेश अध्यक्ष ने कांग्रेस कार्यकर्ता को पहनाया चप्पल, कहा - ऐसे जाबाज साथी को सलाम जिसने...

प्रदेश अध्यक्ष ने फेसबुक में किया फोट अपलोड कर लिखा यह
कांग्रेस पार्टी का सच्चा सिपाही (नव निर्वाचित जनपद सदस्य ) मेरे विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत घोड़ागाँव जो बीजेपी का गढ़ था उसे को ढहाकर निर्वाचित हुआ है, प्रण के अनुसार जब तक निर्वाचित नहीं होता, बिना चप्पल के कहीं भी जाता था, खुद तो जीता साथ साथ 25 वर्षों बाद सरपंच पद को भी कांग्रेस के पक्ष में जिताया... ऐसे जाबाज साथी बुधराम कश्यप जी को सलाम करता हूँ... आज मेरे कार्यालय में चप्पल पहना कर प्रण को तोड़ा...

Click & Read More Chhattisgarh News.

पंचायत चुनाव के बीच नक्सलियों का खूनी खेल, पहले 2 जगह किया ब्लास्ट फिर युवक का गला रेत कर दी हत्या

CAF कैंप में जवान ने साथियों पर की फायरिंग, मौके पर एक जवान की मौत, दो गंभीर

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned