script58 coal blocks expected to be commissioned in current financial year | चालू वित्तीय वर्ष में 58 कोयला ब्लॉकों के शुरू होने की उम्मीद | Patrika News

चालू वित्तीय वर्ष में 58 कोयला ब्लॉकों के शुरू होने की उम्मीद

कोयला मंत्रालय ने वाणिज्यिक कोयला खनन के निजी उपयोग (कैप्टिव एंड यूज) और बिक्री के लिए कोयला ब्लॉक आवंटित किए हैं। वित्त वर्ष 2021-22 में 47 चालू कोयला ब्लॉकों से 85.32 मिलियन टन कोयले का उत्पादन किया गया है।

कोरबा

Published: June 05, 2022 06:02:00 pm

उन कंपनियों को समय-समय पर कारण बताओ नोटिस जारी किए जाते हैं जो कोयला ब्लॉकों के समय पर संचालन के लिए समझौते पर निर्धारित समयसीमा का पालन नहीं कर रही हैं या कोयला उत्पादन के लक्ष्य को हासिल नहीं कर पा रही हैं। मंत्रालय ने मामलों के आधार पर कारण बताओ नोटिस जारी करने और आवंटियों से प्राप्त उत्तरों पर विचार करने के लिए एक जांच समिति का गठन किया है। यह जांच समिति उन मामलों में दंड की सिफारिश करती है जिनमें आवंटियों की तरफ से देरी की जाती है।
चालू वित्तीय वर्ष में 58 कोयला ब्लॉकों के शुरू होने की उम्मीद
चालू वित्तीय वर्ष में 58 कोयला ब्लॉकों के शुरू होने की उम्मीद

जांच समिति ने हाल ही में आयोजित अपनी 17वीं बैठक में 24 कोयला खदानों के मामलों की समीक्षा की है। चार मामलों अर्थात तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड (राजबर ई एंड डी), टॉपवर्थ ऊर्जा एंड मेटल्स लिमिटेड (मार्की मंगली-१), अल्ट्राटेक सीमेंट्स लिमिटेड (बिचारपुर) और नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (तलाईपल्ली) में आवंटियों की ओर से देरी के कारण प्रदर्शन सुरक्षा के आनुपातिक विनियोग की सिफारिश की है। जांच समिति की सिफारिशों को सरकार ने स्वीकार कर लिया है और विनियोग आदेश जारी किए जा रहे हैं।
जांच समिति की बैठक के बाद, 22 कोयला ब्लॉकों के लिए 16 कंपनियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए थे। इसमें हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड, नेशनल थर्मल पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड 3 ब्लॉक, जेएसडब्ल्यू स्टील लिमिटेड, त्रिमुला इंडस्ट्रीज लिमिटेड, दामोदर घाटी निगम, पश्चिम बंगाल विद्युत विकास निगम, टॉपवर्थ ऊर्जा एंड मेटल्स लिमिटेड, बीएस इस्पात लिमिटेड, इंद्रजीत पावर प्राइवेट लिमिटेड, बिरला कार्पोरेशन लिमिटेड (2 ब्लॉक), सनफ्लैग आयरन एंड स्टील कंपनी लिमिटेड, कर्नाटक पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (2 ब्लॉक), पावर प्लस ट्रेडर्स प्राइवेट लिमिटेड, वेदांत लिमिटेड (3 ब्लॉक), नेशनल एल्युमिनियम कंपनी लिमिटेड, ईएमआईएल माइन्स एंड मिनरल रिसोर्सेज लिमिटेड।
आगे की नियमित कार्रवाई के अलावा, कोयला मंत्रालय द्वारा ब्लॉक आबंटितियों और संबंधित राज्य व केंद्रीय एजेंसियों जैसे एमओईएफएंडसीसी, राज्य खनन विभागों, राज्य राजस्व विभागों, राज्य वन विभागों, आदि के साथ समीक्षा बैठकें भी आयोजित की जा रही हैं। इनका उद्देश्य कोयला ब्लॉकों का जल्द संचालन और चालू ब्लॉकों से उत्पादन बढ़ाना है। कोयला ब्लॉकों के शीघ्र संचालन के लिए वैधानिक मंजूरी प्राप्त करने में आवंटियों की सहायता के लिए कोयला मंत्रालय ने एक परियोजना प्रबंधन इकाई भी नियुक्त की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Gujarat News: जामनगर के होटल में लगी भयानक आग, स्टाफ सहित 27 लोग थे मौजूद, सभी सुरक्षितत्रिपुरा कांग्रेस विधायक सुदीप रॉय बर्मन पर जानलेवा हमला, गंभीर रूप से हुए घायलबांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाCM अरविंद केजरीवाल ने किया सवाल- 'मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसझारखंड BJP ने बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को गिफ्ट में भेजा पेन, कहा - '10 लाख नौकरी देने वाली फाइल पर इससे करें हस्ताक्षर'Karnataka High Court: एक्सीडेंट में माता-पिता की मौत होने पर विवाहित बेटियां भी मुआवजे की हकदार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.