एसईसीएल की विजय वेस्ट माइंस में हादसा, तीन कर्मी दबे, एक की मौत

Rajkumar Shah

Publish: Jan, 13 2018 08:50:01 PM (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
एसईसीएल की विजय वेस्ट माइंस में हादसा, तीन कर्मी दबे, एक की मौत

एसईसीएल के विजय वेस्ट अंडर ग्राउंड माइंस में शुक्रवार की रात हादसा हो गया। तीन कर्मचारी माइंस के अंदर दब गए।

कोरबा . एसईसीएल के विजय वेस्ट अंडर ग्राउंड माइंस में शुक्रवार की रात हादसा हो गया। तीन कर्मचारी माइंस के अंदर दब गए। आनन-फानन में तीनों ही कर्मचारियों को बिलासपुर सिम्स रिफर किया गया। जहां एक कर्मचारी की मौत हो गई जबकि दो कर्मचारियों का उपचार चल रहा है।

पसान थाना अन्र्तगत रानी अटारी के पास एसईसीएल की विजय वेस्ट माइंस संचालित हो रही है। इस अंडर ग्राउंड माइंस में कोयला खनन का काम चल रहा है।

शुक्रवार की रात की पाली में तीन कर्मचारी कोरबी निवासी राजेश सिंह, पुटीपखना निवासी पंचम मार्कों, नागपुर निवासी राजेश इरखेड़े कोयला काटने का काम कर रहे थे। रात डेेढ़ बजे राजेश सिंह 36 वर्ष द्वारा कोयला काटने की मशीन से कोयला निकाला जा रहा था। इसी बीच एकाएक एक कोयला का बड़ा पत्थर उस पर सीधे आकर गिरा। जिससे वह पत्थर के नीचे ही दब गया।

वहीं दो अन्य कर्मी राजेश इरखेड़े व पंचम मार्कों भी इसके चपेट में आ गए। आसपास काम कर रहे अन्य कर्मचारियों ने माइंस के ऊपर डेकलाइन क्रमांक टू पर इसकी जानकारी भिजवाना चाही। पर कोई साधन नहीं होने से काफी परेशानी हुई। खदान के अंदर में ही सेफ्टी के लिए एक स्ट्रेचर होता है।

उस स्ट्रेचर में राजेश सिंह को गंभीर हालत में लाया गया। वहीं दो अन्य कर्मचारी पैदल बाहर आए। आनन-फानन में सीधे बिलासपुर सिम्स भेजा गया। जहां पहुंचते ही डॉक्टरों ने राजेश सिंह को मृत घोषित कर दिया। वहीं दो अन्य कर्मचारी आईसीयू में है, स्थिति गंभीर है।


जेएमएस कंपनी के तीनों कर्मचारी, हेल्पर व ऑपरेटर से ले रहे थे काम- वर्तमान में एसईसीएल की विजय वेस्ट माइंस का संचालन पूरी तरह से आउट सोर्सिंग से की जा रही है। निजी कंपनी जेएमएस कंपनी इसका संचालन कर रही है। एसईसीएल की अन्य अंडर ग्राउंड में जो कोयला काटने का काम कर रहे हैं वे सभी कोलकट मशीन ऑपरेटर है, साथ ही अनुभवी भी हंै।

लेकिन जेएमएस कंपनी जिन कर्मचारियों से काम ले रही थी उनमें मृतक केबल हेल्पर था। और दो अन्य केबल ऑपरेटर पद पर था।

Ad Block is Banned