कई माह गुजर गए, युवक को नौकरी नहीं मिली तो हुआ ठगी का एहसास

Vasudev Yadav

Publish: Feb, 15 2018 08:11:04 PM (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
कई माह गुजर गए, युवक को नौकरी नहीं मिली तो हुआ ठगी का एहसास

युवक की शिकायत पर पुलिस ने ठग के खिलाफ केस दर्ज किया है। घटना बांकीमोंगरा थाना क्षेत्र की है।

कोरबा . बेरोजगार युवक को नौकरी लगाने का झांसा देकर ठग ने एक लाख 95 हजार रुपए हड़प लिया। कई माह गुजर गए, लेकिन बेरोजगार को नौकरी नहीं मिली। उसे ठगी का पता चला। युवक की शिकायत पर पुलिस ने ठग के खिलाफ केस दर्ज किया है। घटना बांकीमोंगरा थाना क्षेत्र की है। गजरा बस्ती में रहने वाले रविलाल के पुत्र विनोद कुमार की दोस्ती कटघोरा के ग्राम करूमौहा में रहने वाले गोविंद सिंह दिवाकर से थी।

गोविंद ने खुद को अफसरों का करीबी बताकर विनोद को नौकरी लगाने का झांसा दिया। गोविंद ने बताया कि दो से ढाई लाख रुपए खर्च करने पर विनोद को नौकरी मिल जाएगी। दोनों के बीच बातचीत हुई तो विनोद ने नौकरी के लिए दो लाख रुपए तक खर्च करने की बात कही। गोविंद ने दो लाख रुपए लेकर नौकरी लगाने का वादा किया।

Read More : खत्म होने जा रही है लीज अवधि, बदल सकती है इन शराब दुकानों की जगह

विनोद झांसे में आ गया। उसने 31 दिसंबर, 2015 को दो युवकों की उपस्थिति में एक लाख 95 हजार रुपए गोविंद को प्रदान किया। नौकरी नहीं लगा पाने की स्थिति में गोविंद ने पैसे लौटाने का वादा भी किया। कई माह गुजर गए लेकिन विनोद को नौकरी नहीं मिली। उसने गोविंद से पैसे की मांग की। आजकल में पैसे लौटाने की बात कहकर गोविंद टाल मटोल करता रहा। बाद में उसने चेक के जरिए राशि लौटाने की बात कही। ७५ हजार रुपए का चेक विनोद को प्रदान किया। राशि नहीं होने से चेक बाउंस हो गया।

कुछ दिन बाद पता चला कि गोविंद ने जिस बैंक का चेक दिया था, उसके खाते को बंद करा दिया है। धोखाधड़ी के शिकार युवक ने बांकीमोंगरा थाने में शिकायत दर्ज कराई। लेकिन पुलिस ने हस्तक्षेप करने से मना कर दिया। विनोद ने कोर्ट की शरण ली। कोर्ट ने पुलिस को एफआईआर दर्ज कर जांच का आदेश दिया। पुलिस ने गोविंद के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत केस दर्ज किया है। मामले की जांच कर रही है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned