चंद मिनटों मेें ठग एटीएम की कर रहे क्लोनिंग, जिले में फिर से सक्रिय हुआ गिरोह

चंद मिनटों मेें ठग एटीएम की कर रहे क्लोनिंग, जिले में फिर से सक्रिय हुआ गिरोह

Vasudev Yadav | Updated: 10 Jul 2019, 07:54:42 PM (IST) Korba, Korba, Chhattisgarh, India

Cloning ATM : इससे पहले छह माह पूर्व सामने आया था मामला, सीएसईबी का रिटायर्ड कर्मी अब हुआ शिकार

कोरबा. हेल्प करने के नाम पर महिलाओं व बुजुर्गों के एटीएम मांग चंद मिनटों में क्लोनिंग कर खाते से राशि निकालने वाला गिरोह एक बार फिर सक्रिय हो गया है। छह माह पूर्व एक महिला इसकी शिकार हुई थी। इस बार एक रिटायर्ड सीएसईबी कर्मी से एक लाख की ठगी की गई है।
पिछले साल अक्टूबर में एटीएम क्लोनिंग का पहला मामला सामने आया था। जिसमें गिरोह ने पुरानी बस्ती में रहने वाली महिला गिरिजा तिवारी के एटीएम कार्ड का नंबर धोखे से हासिल किया। कार्ड पर दर्ज 16 अक्षर के नंबर और सीवीसी के आधार पर कार्ड की क्लोनिंग की थी। पटना में बैठकर गिरिजा के खाते से एक लाख 20 हजार रुपए निकाल लिया था। मोबाइल पर आने वाली मैसेज को बढक़र गिरिजा को ठगी का पता चला था। दरअसल महिला के साथ पॉवर हाउस रोड पर एसएस प्लाजा स्थित स्टेट बैंक के एटीएम से रुपए रूपए निकालने के दौरान दो अनजान युवकों से सहयोग लिया था। दोनों की मदद से 20 हजार रुपए दो किस्तों मेें निकाला था। इसके पांच दिन बाद खाते से एक लाख 20 हजार निकल गए थे। ठीक इसी तरह दूसरा मामला घंटाघर स्थित एटीएम मशीन से पैसे निकालते वक्त सीएसईबी कर्मी जगबंधु डे के साथ हुआ है। बुजुर्ग से पैसे निकालने के बजाएं एटीएम कार्ड की क्लोनिंग कर ली गई थी। बाद में खाते से एक लाख रूपए निकाल लिए गए। हालांकि पहले मामले में पुलिस ने आरेापियेां को पकड़ा था। आरेापियों के पास से एक डिवाइस जप्त किया गया था जिसपर एटीएम लगाते ही उसका पूरा डाटा डिवाइस में आ जाता है।

Read More : जान बचाने आधी रात घुसा तालाब में, पड़ी नजर तो आरोपियों ने कर दी हत्या

एटीएम के आसपास गिरोह सक्रिय
एटीएम मशीनों के आसपास ही यह गिरोह सक्रिय रहता है। बुजुर्ग और महिलाओं को देखकर शिकार बनाते हैं। पुलिस घंटाघर एटीएम के आसपास का सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। आरोपियों की खोजबीन की जा रही है। पैसे कहां से निकले। उसके आधार पर भी जांच की जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned