समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को दिए निर्देश, कहा-चुनाव हुआ पूरा, अपने काम में लग जाएं

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी इंद्रजीत सिंह चंद्रवाल, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी भी उपस्थित रहे।

By: Shiv Singh

Published: 18 Dec 2018, 11:00 AM IST

कोरबा. विधानसभा निर्वाचन के बाद अब फिर से जिले में विकास कार्यों को पूरा करने में तेजी आएगी। सड़क, बिजली, पानी के साथ-साथ धान खरीदी और खनिज न्यास से स्वीकृत कामों को तेजी से पूरा करने के लिए कलेक्टर मो. कैसर अब्दुल हक ने सोमवार को समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिये।

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि विधानसभा निर्वाचन के पूरे होने के बाद अब सभी अधिकारियों को अपने-अपने विभागीय लक्ष्यों की पूर्ति के लिए जुट जाना चाहिए। लोकसभा निर्वाचन के लिए लगने वाली आचार संहिता के पहले विभागीय लक्ष्यों की शत प्रतिशत पूर्ति के लिए तेजी से काम करना होगा। उन्होंने पूर्व में स्वीकृत सभी निर्माण कार्यों को जल्द से जल्द प्रारंभ करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने जिले में निर्माणाधीन सभी कार्यों को भी निर्धारित समय-सीमा में पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी इंद्रजीत सिंह चंद्रवाल, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी भी उपस्थित रहे।
Read More : किराया एक्सप्रेस का और सुविधा लोकल वाली, 10 की जगह रात 12 बजे हसदेव एक्सप्रेस पहुंच रही कोरबा

आंकलन के निर्देश
तूफान के कारण असमय हो रही बारिश से फस नुकसान का आंकलन करने के निर्देश- समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने दिए हैं। कलेक्टर ने फेथई तूफान के प्रभाव से जिले में असमय हो रही बारिश से फसलों को होने वाले नुकसान का आंकलन कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश कृषि एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने इस बेमौसम बारिश के कारण खेतों में कटी धान की फसल में भी नुकसान की पूरी जानकारी रखने को कहा है।

हर हफ्ते होगी कार्यों की समीक्षा
बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि आने वाले समय में अब हर हफ्ते विभागीय कार्यों की पृथक-पृथक समीक्षा की जायेगी। शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य और अब तक प्राप्त उपलब्धि के साथ-साथ शत प्रतिशत लक्ष्य पूर्ति के लिए अधिकारियों को परिणाममूलक कार्य योजना बनाने के लिए भी कलेक्टर हक ने निर्देश दिये हैं। उन्होंने धान खरीदी, महिला एवं बाल विकास, शिक्षा, कृषि, लोक निर्माण, जिला खनिज न्यास से स्वीकृत कार्यों के साथ-साथ राजस्व एवं स्वास्थ्य से संबंधित कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर रखने की बात कही।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned