कोरोना अलर्ट: शासकीय दफ्तरों के साथ ही निजी संस्थानों में भी बायोमैट्रिक से हाजिरी बंद, नोज मास्क की बढ़ी मांग

Corona Alert: जिले में कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी करने के बाद अब कई शासकीय दफ्तरों व निजी संस्थानों ने बायोमैट्रिक मशीन से हाजिरी बंद कर दिया है। वहीं इसका असर खिलौना बाजार पर भी पड़ा है। इससे व्यापारी भी खासे परेशान हैं।

By: Vasudev Yadav

Published: 07 Mar 2020, 01:00 AM IST

कोरबा. दुनिया भर में कोरोना वायरस के भय के बाद जिले के स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी किया है। जिले में कई छोटी-बड़ी औद्योगिक संस्थान हैं। उन्होंने अपने कर्मचारियों की सुरक्षा व स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कुछ दिनों के लिए बायोमैट्रिक से हाजिरी बंद कर दिया है। कर्मचारियों को रजिस्टर में हस्ताक्षर कर अपनी हाजिरी दिखानी होगी।

वायरस का असर खत्म होने के बाद फिर से बायोमेट्रिक मशीन से हाजिरी देनी होगी। दरअसल औद्योगिक संस्थानों में सैंकड़ों की संख्या में कर्मचारी कार्यरत हैं। कोरोना वायरस से संक्रमित देश से आने वाले लोगों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। हाल ही में स्वास्थ्य विभाग ने एक कंपनी में कार्यरत चीन से आए दो लोगों को जांच किया था। जांच में परिणाम निगेटिव मिला। इसके अलावा कोरोना वायरस का असर बाजार पर भी पड़ रहा है। इसे लेकर व्यापारी काफी परेशान हैं।

शासकीय दफ्तरों में भी बायोमैट्रिक हाजिरी से दी छूट
प्रदेश सरकार ने भी शासकीय दफ्तरों में कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों के स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर सूचना जारी किया है। अधिकारियों व कर्मचारियों की हाजिरी बायोमैट्रिक मशीन से 31 मार्च तक छूट दी है। इसके बाद से जिला प्रशासन, जिला पंचायत, नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों में कार्यरत लगभग आठ हजार अधिकारी व कर्मचारियों की हाजिरी रजिस्टर से होगी। शनिवार से अधिकारियों व कर्मचारियों को सुबह आने और शाम को जाने के दौरान रजिस्टर पर हस्ताक्षर करना होगा।

Read More: कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, बनाए गए 10 आइसोलेशन सेंटर

खिलौना बाजार हुआ मंदा
कोरोना वायरस का प्रभाव सबसे अधिक खिलौना बाजार पर पड़ा है। बाजार मंदा हो गया है। चाइना के खिलौने जिले में आना बंद हो गया है। पुराने बचे-खुचे सामान को बेचा जा रहा है।

नोज मास्क की बढ़ी मांग
कोरोना वायरस के अलर्ट जारी होने के बाद मेडिकल स्टोर्स में नोज मास्क की मांग बढ़ गई है। इधर स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वायरस जिले में नहीं है। हालांकि लोगों को थोड़ी सी सावधानी बरतने की जरूरत है। किसी सदस्य को सर्दी व जुकाम होने पर मास्क लगाएं। नजदीकी के अस्पताल में अपना उपचार कराएं। साथ ही लोगों को सार्वजनिक स्थान व भीड़ वाले क्षेत्र से दूरी बनाने की जरूरत है। किसी से मिलते समय गले या फिर हाथ मिलाने से बचने की सलाह दी है।

चिकन के दाम हुए 50 रुपए
कोरोना वायरस को लेकर चिकन व्यापारी खासे परेशान हैं। चिकन के दाम कम हो गए हैं। बाजार में चिकन के दाम 50 रूपए प्रति किलोग्राम हो गए हैं। बावजूद इसके लोग चिकन लेने से बच रहे हैं।

संदिग्ध लोगों के लिए बनाए गए आइसोलेशन वार्ड
स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों के लिए अलग से आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। संदिग्धों मरीजों का ब्लड सैंपल लेकर रायपुर एम्स भेजने की व्यवस्था की गई है। खून परीक्षण की रिपोर्ट आने के बाद उपचार किया जाएगा। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वायरस के सावधानी को लेकर पूरी व्यवस्था की गई है।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned