मीडिया से चर्चा के दौरान बोले त्यागी रमन की योजनाएं आदर्श, गड़बड़ी क्रियान्वयन में

मीडिया से चर्चा के दौरान बोले त्यागी रमन की योजनाएं आदर्श, गड़बड़ी क्रियान्वयन में

Shiv Singh | Publish: Sep, 03 2018 08:35:05 PM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

त्यागी ने एक सवाल के जवाब में कहा

कोरबा. मीडिया से चर्चा करते त्यागी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सीएम डॉ रमन की योजनाएं आदर्श है गड़बड़ी है तो सिर्फ उनके क्रियान्वयन पर। निचले स्तर पर हो रही गड़बड़ी से आम जनता त्रस्त है इसे लेकर हम चुनाव में उतरेंगे। त्यागी ने कहा कि उनका कांग्रेस में प्रवेश नि:शर्त हुआ है उनका किस तरह उपयोग होना है यह पार्टी तय करेगी।

राजनीतिक महत्वाकांक्षी नहीं बल्कि समाज सेवा की चाह के साथ कांग्रेस में जुड़े हैं। राजनीति में पढ़े-लिखे लोगों की जरूरत है। त्यागी ने कहा कि वर्तमान स्थिति से यह स्पष्ट है कि अधिकारी नेताओं की सलाह पर काम कर रहे हैं जबकि एक आईएएस या फिर आईपीएस सरकार के नौकर है उनको अनुशासन और नियम को कभी भूलना नहीं चाहिए। उन्होनें अपने और पूर्व $गृहमंत्री ननकीराम कंवर के साथ हुए विवाद का भी जिक्र किया। त्यागी ने यह भी बताया कि वे और ओपी चौधरी दोनों एक साथ फ्लाइट से दिल्ली गए थे। जहां उन्होंने बता दिया था कि वे भाजपा से जुड़ रहे हैं।

पूर्व कलेक्टर आईपीएस त्यागी कांग्रेस का दामन थामने के बाद पहली बार कोरबा पहुंचे, लेकिन उनके स्वागत में कांग्रेसी नेता नदारद रहे। ओपी चौधरी की तरह स्वागत की आस के साथ कोरबा पहुंचे त्यागी की नजरें कांग्रेसी नेताओं को ढूंढती रही। स्टेशन से त्यागी सर्वमंगला मंदिर गए। लगभग एक घंटे बाद संगठन के नेताओं ने स्थानीय नेताओं को इसके लिए नाराजगी व्यक्त की तब जाकर त्यागी के स्वागत के लिए कार्यकर्ता व पदाधिकारी कांग्रेस कार्यालय पहुंचे।

Read more : Video- ये राजनीति नहीं आसां, बस इतना समझ लीजिए... कांग्रेस प्रवेश के बाद पूर्व IAS त्यागी को लेने स्टेशन नहीं पहुंचे पदाधिकारी


सोमवार को लिंक एक्सपे्रस से त्यागी सुबह साढ़े 11 बजे पहुंचे। स्टेशन में एक रात पहले ही होर्डिंग्स लगाए गए थे। त्यागी के कुछ चुंनिदा लोग सुबह से कांग्रेसी नेताओं को फोन करते रहे, लेकिन किसी ने जवाब नहीं दिया। होर्डिंग्स में जिनके चेहरे थे वे भी नहीं पहुंचे। त्यागी के स्टेशन के बाहर आते ही मु_ी भर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। त्यागी की नजरें भी तीन-तीन कांग्रेसी विधायकों व संगठन के नेताओं को ढूंढती रही, लेकिन जब कोई नजर नहीं आया तो वहां से त्यागी सर्वमंगला मंदिर मत्था टेकने पहुंचे। इस बीच आलाकमान तक बात पहुंच चुकी थी। इसे लेकर स्थानीय नेताओं पर नाराजगी व्यक्त की गई। तब जाकर त्यागी को टीपीनगर स्थित कांग्रेस कार्यालय बुलाकर उनका स्वागत किया गया।

पंचवटी में भी गिनती के कांग्रेस नेता पहुंचे
पंचवटी में पत्र वार्ता के दौरान भी पदाधिकारी कम दिखे। ग्रामीण कांंग्रेस अध्यक्ष उषा तिवारी, हरीश परसाई, कटघोरा से रतन मित्तल पहुंचे। उषा तिवारी के साथ-साथ हरीश परसाई भी कहते रहे कि कांंग्रेस के दिग्गज नेता बोधराम कंवर पहुंचने वाले हैं, लेकिन फिर बताया गया कि वे जाम में फंस गए। गौरतलब है कि बोधराम कंवर ने त्यागी के कटघोरा से टिकट पर पहले से ही विरोध पर बयान दिया था। इस पूरे मामले में त्यागी ने कहा कि चुनावी समय है सभी नेता कहीं न कहीं तैयारियों में लगे हैं। बोधराम आने वाले थे लेकिन वे जाम में फंस गए। पार्टी में एकजुटता है।

Ad Block is Banned