ग्रामीणों में हाथियों का खौफ, दूसरे दिन भी डटा रहा वन अमला, 230 ग्रामीणों को सुरक्षित जगह पर किया गया शिफ्ट

Elephant Attack: जहां एक तरफ देश में कोरोना का दहशत है। वहीं ग्राम बनिया में हाथियों के खौफ से ग्रामीणों का जीना मुश्किल हो गया है। वन विभाग इनकी सुरक्षा को लेकर प्रयास में जुटा हुआ है।

कोरबा. हाथी लगातार ग्राम बनिया में उत्पात मचा रहा है। जनहानि होने से बचाने के लिए वन अमला ग्राम बनिया और गाड़ागौड़ा के ग्रामीणों को दूसरे दिन भी सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। मंगलवार शाम सात बजे तक दोनों ही गांव के करीब 230 लोगों को सुरक्षित जगह पर शिफ्ट कर दिया गया था। वन अमला हाथियों पर निगरानी रखे हुआ है।

पिछले एक सप्ताह से कटघोरा वनमंडल के पसान रेंज के ग्राम बनिया में हाथियों का उत्पात जारी है। अब तक एक दर्जन मकानों के साथ-साथ एक बुजुर्ग को हाथियों ने रौंद दिया है। गांव में दहशत व्याप्त है। लगातार हो रही घटना को देखते हुए वन अमले ने अब जरुरी उपाय बढ़ा दिए गए हैं।

Read More: इस गांव में कोरोना का नहीं, बल्कि भीमकाय जानवर का भय, रात में मची अफरा-तफरी, 170 ग्रामीणों को दूसरी जगह किया गया शिफ्ट

कटघोरा डीएफओ के निर्देश पर रेंजर सहित पूरा अमला इन गांव में डटा हुआ है। पहले दिन 170 लोगों को शिफ्ट किया गया। दूसरे दिन मंगलवार को 230 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। हालांकि देर शाम तक हाथी केंदई वन परिक्षेत्र तक पहुंच गए थे। रेंजर निश्चल शुक्ला ने बताया कि हाथी अक्सर उत्पात मचाते हुए रात को पहुंच जाते हैं। इसलिए ऐहतिहातन कदम उठाए गए हैं।

ग्रामीणों में हाथियों का खौफ, दूसरे दिन भी डटा रहा वन अमला, 230 ग्रामीणों को सुरक्षित जगह पर किया गया शिफ्ट

सीसीएफ ने भी किया दौरा, दिए निर्देश
बिलासपुर सीसीएफ अनिल सोनी रविवार की रात को ग्राम बनिया पहुंचे थे। उन्होनें व्यापक तौर पर उपाए करने के निर्देश दिए। दो गजराज वाहन भी गांव पहुंचे। उसके बाद लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का काम शुरु किया गया।

Vasudev Yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned