आसपास मंडरा रहा हाथियों का दल, फिर भी तेंदूपत्ता संग्रहण का चल रहा काम

आसपास मंडरा रहा हाथियों का दल, फिर भी तेंदूपत्ता संग्रहण का चल रहा काम

Vasudev Yadav | Updated: 19 May 2019, 08:21:39 PM (IST) Korba, Korba, Chhattisgarh, India

कुदमुरा रेंज का मामला, अच्छी क्वालिटी का पत्ता होने की वजह से ग्रामीण जा रहे

कोरबा. बेहतर क्वालिटी का पत्ता तोडऩे के फेर मेंं ग्रामीण हाथी प्रभावित क्षेत्र के दायरे में प्रवेश कर जा रहे हैं। कुछ घंटे पहले ही जिस जगह पर हाथी देखा गया था उसके कुछ दूरी पर ही ग्रामीण तेंदूपत्ता तोड़ रहे थे। हालांकि बाद में ग्रामीणों को वन विभाग ने समझाइश देकर जंगल की ओर जाने से मना किया।
कुदमुरा रेंज में लगातार हाथी विचरण कर रहे हैं। तीन दिन पहले बाइक सवार की हाथी के हमले से मौत के बाद से इस क्षेत्र में दहशत की स्थिति है। वन विभाग ने अकेले जंगल की ओर जाने से मना किया है। मुख्य मार्गों के आलावा ग्रामीण अंचलों की सडक़ों पर शाम के बाद आने-जाने वालों को सतर्क किया जा रहा है। इधर तेंदूपत्ता तोडऩे व संग्रहण का काम अंतिम चरण में है। कई समितियों में अब भी काम चल रहा है। समितियोंं द्वारा संग्राहकों को बेहतर क्वालिटी का पत्ता तोडऩे का अप्रत्यक्ष तौर पर दबाव बनाया जाता है। इसी वजह से ग्रामीण जंगल की ओर जा रहे हैं।
रविवार को भी चचिया के आसपास जंगल में ग्रामीण तेंदूपत्ता तोडऩे पहुंचे हुए थे। जबकि इसी क्षेत्र में सुबह दंतैल को विचरण करते हुए देखा गया था। वन विभाग द्वारा इसे लेकर गंभीरता नहीं दिखाई जा रही है। बीट गार्ड और अन्य स्टॉफ द्वारा मुनादी कराने में लापरवाही बरती जा रही है। ऐसे में बड़ी घटना भी घट सकती है।

रबी फसल भी तोडऩे का काम, इसलिए परेशानी बढ़ी
अभी इस क्षेत्र में रबी फसल भी तोडऩे का काम शुरू हो चुका है। अभी एक माह तक यह काम चलेगा। फसल तोडऩे के लिए भी ग्रामीण अधिक संख्या में जंगल से लगे खेतों की तरफ जा रहे हैं। वन विभाग ने ग्रामीणों से कहा है कि समूह में जाए। शाम से पहले ही गांव लौट आए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned