मुफ्त में स्मार्ट फोन हासिल करना छात्रों के लिए टेढ़ी खीर, घोषणा के बाद शासन नहीं दिखा रहा संजीदगी

मुफ्त स्मार्ट फोन पाने के लिए छात्र हर रोज कॉलेज के चक्कर काट रहे

By: Shiv Singh

Published: 23 May 2018, 12:18 PM IST

कोरबा . मुफ्त स्मार्ट फोन पाने के लिए छात्र हर रोज कॉलेज के चक्कर काट रहे हैं। लेकिन स्पष्ट दिशा निर्देश जारी होने के कारण कॉलेज प्रबंधन भी छात्रों की समस्या का समाधान नहीं कर पा रहे हैं।

पूर्व में जारी निर्देश के तहत 18 से 25 मई के मध्य फॉर्म भरकर इसे कॉलेज में जमा किया जाना था। लेकिन अब तक कॉलेज में विश्वविद्यालय की तरफ से फॉर्म ही नहीं भेजे गए हैं।


स्मार्ट फोन के लिए आवेदन भरने के लिए छात्र छुट्टियों में भी भीषण गर्मी के बीच कॉलेज की दौड़ लगा रहे हैं। मंगलवार को भी छात्रों को मायूस होना पड़ा। अब बुधवार को फॉर्म आने और वितरित किए जाने की जानकारी मिल रही है।


अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए कोई आदेश नहीं
वर्तमान में जारी आदेश में प्रथम व द्वितीय वर्ष के साथ स्नातकोत्तर पूर्व की कक्षा में अध्ययनरत नियमित छात्रों को ही स्र्माट देने का उल्लेख किया गया है। अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए उक्त आदेश में कोई जिक्र नहीं है। पिछले वर्ष तक अंतिम वर्ष के छात्रों को राज्य शासन द्वारा टेबलेट का वितरण किया जाता रहा है।

इसलिए काफी हद तक यह भी संभव है कि प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्रों को स्मार्ट फोन तो अंतिम वर्ष के छात्रों को टेबलेट का वितरण किया जाए। बहरहाल अब तक इस विषय में स्थिति स्पष्ट नहीं है। जिसके लिए कॉलेज प्रबंधन भी बीयू से जारी होने वाले विस्तृत दिशा निर्देश की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

Read more :CG Utility News : और जटिल हुआ GST, अब महज 10 किलोमीटर के परिवहन पर भी इस तरह चुकनी होगी राशि


13 हजार से अधिक छात्रों को मिलेगा लाभ
राज्य सरकार की संचार क्रांति योजना के तहत जिले के 13 हजार 504 छात्रों को स्मार्ट फोन दिया जाना प्रास्तावित है। जिले के 18 शासकीय व निजी कॉलेजों में अध्ययनरत छात्रों की सूची शासन को प्रेषित की जा चुकी है।


अंतिम तिथि बढऩे की संभावना
स्मार्ट फोन के लिए छात्रों द्वारा फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि 25 मई को निर्धारित की गई थी। लेकिन 22 मई तक कॉलेजों में फॉर्म ही नहीं पहुंचे हैं। आधिकारिक सूत्रों की मानें तो अंतिम तिथि बढ़ाए जाने की पूरी संभावना है। बुधवार को इस संबंध में बीयू से विस्तृत दिशा निर्देश जारी किए जा सकते हैं। जिसके बाद ही यह स्पष्ट होगा कि फॉर्म कब मिलेगा, बंटेगा और सरकारी फोन छात्रों के हाथ में कब तक आएगा।

शासन की संचार क्रांति योजना का लाभ दिलाने के लिए जिले के सभी शासकीय व निजी कॉलेजों के स्नातक व स्नातकोत्तर कक्षाओं में नियमित छात्र के रूप में अध्ययन करने वालों की सूची लीड कॉलेज ने राज्य शासन को भेज दी है। जिन छात्रों का नाम त्रुटिवश इस सूची में छूट गया हो तो वह प्रमाण पत्र दिखाकर अपना नाम अब भी जुड़वा सकते हैं।


एबीवीपी ने सीईओ को सौंपा ज्ञापन
एबीवीपी ने सीईओ को ज्ञापन सौंपकर तीन दिनों के भीतर संचार क्रोति योजना अंतर्गत स्मार्ट फोन का फार्म उपलब्ध कराने की मांग की है। स्मार्ट फोन के लिए फार्म भरने का तिथि 18 मई प्रारंभ होने वाली थी, अंतिम तिथि 25 मई है। लेकिन कालेज में फार्म ही उपलब्ध नहीं है। छात्र-छात्राओं को कालेज का चक्कर काटना पड़ रहा है। इस संबंध में ज्ञापन सौंपने एबीवीपी छात्र नेता सूरज टांडेकर, प्रमाद निदेश तांबे उपस्थित थे। सीईओ ने समस्याओं का जल्द निराकरण करने हुए कालेजों में उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है।


एनएसयूआई ने सौंपा ज्ञापन
एनएसयूआई ने स्नातक अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन की मांग को लेकर जिला पंचायत सीईओ को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में उल्लेख है कि स्नातक अंतिम वर्ष के सभी संकाय के छात्र-छात्राओं को सूचना क्रांति योजना अंतर्गत प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्र-छात्राओं को दिया जा रहा है।

जिससे अंतिम वर्ष के लाभार्थी वंचित हो रहे हैं। छात्र-छात्राओं में निराश है। इस अवसर पर अजय भंडारी, पूर्णिमा नेताम, सुष्मिता, पुष्पा उरॉव, गौरी देवांगन एवं एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने सभी छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन मांग देने की है। छात्रों ने ज्ञापन में चेतावनी दी है कि अगर सभी छात्रों को स्मार्ट फोन नहीं दिए तो सड़क पर उतरेंगे।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned