शिकायत के बाद भी भारी वाहनों पर नहीं लग रहा प्रतिबंध, बदहाल सडक़ पर खतरा

- जिससे आम लोगों को आवागमन में तथा धूल से भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस मार्ग पर नियमानुसार भारी वाहनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग

By: Shiv Singh

Published: 07 Jan 2019, 12:40 PM IST

बहेराडीह/कोसमंदा. सिवनी सुखरीकला सडक़ मार्ग पर फैक्ट्री का दिन रात भारी वाहनों के चलने से सडक़ मार्ग की हालत बद से बदतर हो गई है। जिससे आम लोगों को आवागमन में तथा धूल से भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस मार्ग पर नियमानुसार भारी वाहनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग जिला प्रशासन से कई बार क्षेत्र के ग्रामीण कर चुके हैं। मगर ग्रामीणों के शिकायत पर आज तक उचित कार्रवाई नहीं होने से नाराज सिवनी चाम्पा छेत्र के दर्जनभर गांव के ग्रामीण मिलकर फैक्ट्री के विरोध में पुलिस प्रशासन को बाकायदा लिखित रूप में सुचना देकर इस मार्ग पर चक्काजाम करने का तैयारी कर रहे हैं। इसकी बात की भनक लगते ही बहेराडीह गांव में स्थापित कृष्णा इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक के द्वारा उक्त सडक़ मार्ग के गड्ढों पर गुणवत्ताहीन डस्ट डाला जा रहा है। इससे काफी मात्रा में धूल के उडऩे से अब ग्रामीणों की समस्या और भी बढ़ गई है। वैसे भी सडक़ मार्ग पर एक निजी फैक्ट्री के मालिक द्वारा सडक़ मार्ग का मरम्मत कार्य कराया जाना नियम विरुद्ध कार्य करने की श्रेणी में आता है। इस संबंध में सिवनी गांव के ग्रामीण महेश कुमार राठौर, रामाधार देवांगन उमा दयाल साहू व बहेराडीह के उपसरपंच जितेंद्र कुमार यादव ने बताया कि चाम्पा से लगे सिवनी सुखरीकला सडक़ मार्ग पर फैक्ट्री का भारी वाहनों के दिनभर चलने तथा धूल के उडऩे से परेशान छेत्र के ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए कृष्णा इंडस्ट्रीज लिमिटेड बहेराडीह के मालिक द्वारा गुणवत्ताहीन डस्ट को डालकर आम जनता की परेशानी को और भी बढ़ा दिया है। फिर भी जिला प्रशासन का मौन रहना ग्रामीणों के समझ से परे है। उल्लेखनीय है कि छेत्र की जनप्रतिनिधियों की उदासीनता तथा प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे सिवनी समेत बहेराडीह, बालपुर, सुखरीकला, नवापारा, सीधरामपुर, सुखरी खुर्द दारंग, बघोदा समेत दर्जनभर गांव के ग्रामीणों ने मिलकर अब पुलिस प्रशासन को बाकायदा लिखित रूप में सूचना तथा कलेक्टर के नाम पर प्रस्तुत आवेदनों की कापी देकर उक्त मार्ग पर चक्काजाम करने की तैयारी कर रहे हैं।
स्थानीय जनप्रतिनिधि भी नहीं दे रहे ध्यान
इस सम्बंध में सिवनी की सरपंच को भी जानकारी है लेकिन उन्होंने भी इस समस्या को अनदेखी कर दिया है। कुछ ही महिनो के बाद सरपंच चुनाव भी आ जाएगा लेकिन जो पिछले 4 सालों में इस परेशानी का निदान नहीं निकल सका तो अब चंद दिनों में क्या होगा। कृष्ण इंडस्ट्रीज आय दिन मीडिया की सुर्खियों बना रहता है और किसी भी तरह से उनके ऊपर कार्यवाही नहीं होंने से वे अपने निजी बड़े वाहनो को इस सुखरी रोड़ पर धड़ल्ले से दौड़ा रहे लेकिन शासन और प्रशासन भी मिलकर इस मसले का हल नई निकाल पा रही है। जिसे लेकर ग्रामीणों में रोष पनप रहा है। क्षेत्र के लोग इस दिशा में बहुत जल्द बड़ा आंदोलन के मूड में हैं। इसकी सूचना अधिकारियों को दी गई है।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned