कोरोना काल में ग्रामीणों के लिए वरदान साबित हो रहा हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, लोगों की सेहत का रखा जा रहा ख्याल

कोरोना को लेकर जहां देश में लॉकडाउन है, लोगों का घरों से बाहर निकलना मना है। ऐसे समय में ग्रामीणों के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर वरदान साबित हो रहा है।

By: Vasudev Yadav

Published: 26 May 2020, 04:20 PM IST

कोरबा. स्वास्थ्य विभाग की तरफ से गांव में स्थापित हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर पर तैनात सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारियों (सीएचओ) की तरफ से गांव के लोगों को सेहत की बुनियादी सेवाएं प्रदान की जा रही है।

Read More: कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने जारी किया ये निर्देश

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा देश में लॉक डाउन किया गया है। ऐसी परिस्थिति में हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर गांव के लोगों के लिए वरदान साबित हो रहे है। ब्लड प्रेशर शुगर की मुफ्त जांच के बाद उन्हें दवाइयां भी दी जा रही है। साथ ही साथ कोरोनावायरस से बचने के उपाय जैसे कि मास्क पहनना, हैंड वॉशिंग करना सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में गांव के लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साथ ही साथ गर्भवती एवं 5 वर्ष तक के बच्चों का मुफ्त टीकाकरण भी किया जा रहा है।

Read More: प्रशासन को बिना सूचना दिए पहुंच गया था घर, अब कोरोना संक्रमित के परिजनों को भी किया गया क्वारेन्टाइन

बिना किसी छुट्टी के सीएचओ एवं एएनएम के द्वारा स्वास्थ्य सेवाएं दी जा रही है एवं सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन किया जा रहा है। नुनेरा के क्वॉरेंटाइन सेंटर में बाहर से आए हुए 45 मजदूरों को रखा गया है, जिनका मेडिकल टीम द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है।

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned