बोलेरो पर ऑन ड्यूटी रेलवे लिख कर पहुंचा रहे थे नशीली दवा, दो गिरफ्तार

बोलेरो पर ऑन ड्यूटी रेलवे लिख कर पहुंचा रहे थे नशीली दवा, दो गिरफ्तार

Shiv Singh | Publish: Sep, 16 2018 09:54:35 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 09:54:36 PM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

- भारी मात्रा में प्रतिबंधात्मक दवाइयां बरादम
- घर से नशेडिय़ों को बेचते थे दवा

 

कोरबा. पुलिस ने नशीली दवाइयों से भरी एक बोलेरो को जब्त किया है। इस पर ऑन ड्यूटी रेलवे लिखा हुआ है। जब्त की दवाइयों में कोरेक्स के अलावा कफ मैक्स और पैसिवेन स्पेस प्लस आदि शामिल है। इसकी कीमत डेढ़ से दो लाख रुपए बताई जा रही है। पुलिस ने बोलेरो चालक और इस पर सवार एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।
घटना की जानकारी देते हुए कोतवाली थानेदार रघुनंदन शर्मा ने बताया कि नशीली दवाओं गैर कानूनी तरीके से परिवहन के आरोप में चन्द्रशेखर यादव और सुनील यादव को गिरफ्तार किया है। दोनों सीतामणी क्षेत्र के निवासी हैं। शनिवार को मुखबिर ने पुलिस को बताया कि सफेद रंग की बोलेरो सीजी 12 एआर 6588 में नशीली दवाओं की खेप कोरबा पहुंचने वाली है। बोलेरो पर दो व्यक्ति सवार हैं। गाड़ी के सामने ग्लास में ऑन ड्यूटी रेलवे अंग्रेजी में लिखा है। सूचना पर पुलिस ने बोलेरो की घेराबंदी चालू की। इमलीडूग्गु क्षेत्र में भैया लाल के घर के पास बोलेरो को रोक लिया। वाहन चालक से पूछताछ की। चालक ने अपना नाम चंद्रशेखर यादव उर्फ बंटी बताया। उसके बाजू मेें बैठे एक अन्य व्यक्ति ने अपना नाम सुनील यादव निवासी गोकुल गंज सीतामढ़ी बताया। पुलिस ने बोलेरो की तलाशी ली। इस पर चार कार्टून में भरा कफ मैक्स सिरफ की 480 शीशी, नशीली कैप्सूल पायसिरॉन स्पेस प्लस की 2640 कैप्सूल मिली। पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। गाड़ी को लेकर थाना पहुंंची। पूछताछ के बाद दवाईयों को जब्त कर लिया। दोनों के खिलाफ नार्कोटिक्स एक्ट की धारा २१ सी के तहत केस दर्ज किया। आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया।

- घर से बेचते थे दवाइयां
पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को प्रतिबंधात्मक दवाइयों की बिक्री घर से करने की जानकारी दी है। ये दवाइयां नशेड़ी लोगों को मनचाही दाम पर उपलब्ध कराई जाती थी। इसके खरीदार किशोर और युवा वर्ग सबसे अधिक है।
- बिलासपुर से ला रहे थे कोरबा
आरोपियों ने बताया कि दवाइयां बिलासपुर के एक व्यापारी से खरीदी गई थी। हालांकि पुलिस ने व्यापारी के नाम का खुलासा नहीं किया है। पुलिस का कहना है कि व्यापारी के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।
- चकमा देने के लिए लिखा ऑन रेलवे ड्यूटी
पुलिस को चकमा देने के लिए आरोपियों ने बोलेरो के सामने शीशे पर ऑन रेलवे ड्यूटी लिखा हुआ था। ताकि रास्ते में कोई एजेंसी बोलेरो की जांच नहीं कर सके। गिरोह पहले भी बिलासपुर से नशीली दवाइयां लाकर कोरबा में खपाना स्वीकार किया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned