तीन-तीन बीवियों से परेशान पति ने कर ली आत्महत्या, पत्नियां ना अस्पताल पहुंची और ना ही किया अंतिम संस्कार

इसके बावजूद ना तो उसकी पत्नियां और ना ही किसी परिजन ने अस्पताल आने की जहमत उठाई। पुलिस ने जब इस बारे में पूछा तो उसकी पत्नी का कहना था कि वह पहले भी कई बार मरने का नाटक कर चूका है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 11 Mar 2020, 05:40 PM IST

कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। पुलिस वालों ने इसकी सुचना उसकी पत्नियों को भी दी लेकिन एक भी पत्नी अस्पताल नहीं पहुंची। ना ही उसके अंतिम संस्कार की ही जिम्मेद्दारी ली। पुलिस को ही मजबूरी में उसका अंतिम संस्कार करना पड़ा।

खुनी होली: रंग लगाने से नाराज दबंगों ने मां के सामने ही उसके बेटे समेत दो लोगों की ले ली जान

जानकारी के अनुसार, जिले के पामगढ़ के हरदी बाजार क्षेत्र के रेकी गांव रहने वाला दुर्गेश पटेल ड्राइवर का काम कर परिवार का पालन पोषण करता था। उसने क्रमशः तीन शादियां कर रखी थी।जिसके कारण उसका अपनी पत्नियों से आये दिन विवाद होता रहता था। वह इन विवादों से इतना परेशान हुआ कि फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली।पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया और उसके परिजनों और पत्नियों को भी सुचना दे दिया।

लेकिन इसके बावजूद ना तो उसकी पत्नियां और ना ही किसी परिजन ने अस्पताल आने की जहमत उठाई। पुलिस ने जब इस बारे में पूछा तो उसकी पत्नी का कहना था कि वह पहले भी कई बार मरने का नाटक कर चूका है। हमें लगा कि इस बार भी नाटक कर रहा है। वहीँ उसके ज्यादतर परिजन लखनऊ रहते है इसीलिए वो नहीं आ पाए।

मृतक की पत्नी धनेश्वरी ने पैसों की तंगी का हवाला देते हुए उसका अंतिम संस्कार करने में असमर्थता जाता दी। जबकि बाकी दो पत्नियां आयी ही नहीं। आखिर में पुलिस को ही उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था करनी पड़ी।

ये भी पढ़ें: होली के दिन शराब पीने को लेकर हुए विवाद में दोस्त ने ही की थी युवक की हत्या, त्यौहार के दिन लाश मिलने से फैल गयी थी सनसनी

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned