यहां के ग्रामीणों को रात में नहीं मिलती संजीवनी और महतारी एक्सप्रेस की सुविधा

यहां के ग्रामीणों को रात में नहीं मिलती संजीवनी और महतारी एक्सप्रेस की सुविधा
The villagers at night and do not get lifesaving feature Mhtari Express

Piyushkant Chaturvedi | Publish: Aug, 29 2016 10:31:00 AM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

आम लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण मानी जाने वाली संजीवनी और महतारी एक्सप्रेस की डगर डगमगाने लगी है। कंपनी ने अघोषित तौर पर चार एम्बुलेंस को रात में बंद कर दी है।

कोरबा. आम लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण मानी जाने वाली संजीवनी और महतारी एक्सप्रेस की डगर डगमगाने लगी है। कंपनी ने अघोषित तौर पर चार एम्बुलेंस को रात में बंद कर दी है। इसमें दो संजीवनी और दो महतारी एम्बुलेंस है। मेटेनेंस में कमी के कारण भी गाडिय़ां वक्त पर नहीं पहुंच रही है। दुर्घटना में घायल लोगों को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने संजीवनी एम्बुलेंस की शुरूआत की थी। संजीवनी की 11 एम्बुलेंस जिले में दौड़ रही है।  गर्भवती महिलाओं को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए महतारी एक्सप्रेस की शुरूआत हुई थी। महतारी एक्सप्रेस नाम से 10 एम्बुलेंस चलाने का दावा स्वास्थ्य विभाग कर रहा है।

लेकिन इसमें से चार गाडिय़ां अधोषित तौर पर रात में बंद रहती है। विकासखंड पोड़ी उपरोड़ा अंतर्गत स्थित पसान और जटगा की संजीवनी एक्सप्रेस को रात में बंद रखा जा रहा है। इसके पीछे तर्क है कि रात में दोनों क्षेत्रों से केस काफी कम आते  हैं। इसी तर्क का हवाला देकर कंपनी ने जटगा और ढोढ़ीपारा में भी महतारी एक्सप्रेस को बंद कर दिया है। चारों गाडिय़ों को नाइट में ऑफ रखा जा रहा है। इसकी पुष्टि संजीवनी और महतारी एक्सप्रेस का संगठन कर रहा है।

साप्ताह में एक दिन सरगबुंदिया बंद

साप्ताह में एक दिन सरगबुंदिया की एम्बुलेंस भी अघोषित तौर पर रात बंद रखी जा रही है। ये काम एम्बुलेंस ड्राइवर के साप्ताहिक अवकाश के दिन किया जा रहा है।  

स्वास्थ्य विभाग को सूचना नहीं

रात में चार गाडिय़ों को अघोषित तौर पर बंद किया जा रहा है। इसकी सूचना जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को नहीं दी है।  रात में गाडिय़ों को बंद करने के पीछे बड़ा कारण ड्राइवर की कमी है। हांलाकि कंपनी के स्थानीय अधिकारी कुछ बोलने से बच रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned