डॉ महंत ने कबीर के दोहे से पार्षदों को समझाया, कहा जनता की पीड़ा समझे, उनका साथ दें,एक बार चुनाव जीत भर जाने से कुछ नहीं होता

डॉ महंत ने मजाकिया लिहाज से जयसिंह को जयसिंह महंत तो राजकिशोर को राजकिशोर अग्रवाल बताया

कोरबा. मंगलवार को स्टेडियम स्थित ऑडिटोरियम में महापौर-सभापति व अन्य निकायों के अध्यक्ष व उपाध्यक्षों के पदभार ग्रहण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ महंत ने कबीर के दोहे से पार्षदों को समझाया कि जनता की पीड़ा समझे, उनका साथ दें। एक बार चुनाव जीत भर जाने से कुछ नहीं होता। इसके साथ ही उन्होनें मजाकिया लिहाज के साथ कई तंज भी कसे। सीएम भी कार्यक्रम में शामिल होने आने वाले थे, लेकिन स्वास्थ्य खराब होने की वजह से उन्होनें कार्यक्रम स्थगित कर दिया।
डॉ महंत ने अपने उद्बोधन मेंं कहा कि जयसिंह के बारे में कुछ कहना जरुरी नहीं हैं। उन्हें आप लोगों ने कभी महंत समझा है कभी बैरागी। मजाकिया लहजे में डॉ महंत ने कहा जैसे जयसिंह मंहत हो गए हैं वैसे ही राजकिशोर अग्रवाल हो जाएंगे। डॉ महंत ने कहा कि राजकिशोर को जनता के भरोसा को जीतने की बात कही। इसके साथ ही सभागार ठहाके से गूंज गया । सभापति के बारे में कहा कि वे मिनटों में काम करने पर भरोसा करते हैं इसी तरह जनता की समस्या पर काम करने कहा। विशेष रूप से लखनलाल देवांगन का धन्यवाद करता हूं इसलिए नहीं कि उन्होनें हमारा साथ दिया। वे सरलता से हर काम करते हैं। डॉ महंत ने पूर्व महापौर जोगेश लांबा और जिलाअध्यक्ष अशोक चावलानी का भी शुक्रिया किया। डॉ महंत ने एकबार फिर लखन लाल देवांगन, जोगेश लांबा और अशोक चावलानी को संबोधित करते हुए कहा कि फिल्मी गाना अनहोनी को होनी कर दे, होनी को अनहोनी , एक जगह जब जमा हो अमर अकबर एंथोनी । महंत ने मंच से कहा अब आप लोग पता लगाएं इसमें से अमर कौन एंथोनी कौन।

इसके साथ ही डॉ महंत ने मंच से सभी पार्षदों को कहा कि एक बार चुनाव जीत गए, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष किसी पद पर बैठ गए। इससे ये नहीं कि अब कुछ नहीं करना है। उन्होनें कबीर के दोहे का अनुवाद करते हुए कहा कि जनता के पीड़ा को समझना, उनके साथ खड़ा होना जरुरी है। डॉ महंत ने कहा कि चुनाव में हार-जीत तो लगी रहती है। हम भी कई बार चुनाव लड़े हैं और कई बार हारे भी। डॉ महंत ने कहा कि जब बबूल के पेड़ बोए तो आम कहां से पाए कहावत के तौर पर तंज भी कसा। कहा सत्ते के पावर का नशा जल्दी चढ़ जाता है, चुनाव कोई खेल नहीं है। आप जीत जाओ और लोगो को भूल जाओ।

मेयर ने कहा सबमिलकर करेंगे काम
महापौर राजकिशोर प्रसाद ने अपने उद्बोधन में कहा कि जनता ने मुझे जिस दायित्व के लिए चुना है उसे पूरा करूंगा। निगम क्षेत्र का विकास मेरा मुख्य ध्येय रहेगा। राजकिशोर प्रसाद ने सभी पार्षदों से कहा कि सत्ता, संगठन और प्रशासन के साथ मिलकर बेहतर काम करें।

दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर अपने कर्तव्यों का करें निर्वहन: जय सिंह
कोरबा नवनिर्वाचित महापौर और जनप्रतिनिधियों के पदभार ग्रहण समारोह में राजस्व मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने अपने उदबोधन में कहा कि स्थानीय चुनाव में चुन कर आए सभी जनप्रतिनिधी दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर आम जनता के लिए काम करें । चुनाव के दौरान की प्रतिस्पर्धा को भूला कर अपने कर्तव्यो का निर्वहन करें । यह भूल जाएं की कौन किस पार्टी का है। सभी लोग मिलजुलकर काम करेंगे। पिछले सालों में जो काम हुए हैं उनको आगे बढ़ाने का काम करें। कोरबा के विकास में ज्यादा से ज्यादा काम किया है, ताकि कोरबा का नाम प्रदेश में हो। जितने भी पार्षद जीत कर आए हैं सभी मिलकर काम करें। शहर सरकार में छोटी-छोटी समस्याए होती है। इसे दूर करने के लिए ये नहीं देखें कि कौन किस पार्टी का है।

पीसीसी अध्यक्ष ने कहा जिस विश्वास से चुना गया, उसपर उतरेंगे खरा
पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि कोरबा की जनता ने जिस विश्वास के साथ कांग्रेस का साथ दिया है उस विश्वास में हम पूरी तरह से खरा उतरेंगे। सरकार की एक साल की उपलब्धि का ही नतीजा है कि हमें प्रदेश के 100 नगरों में हमारी सत्ता है। हमको अब डबल जिम्मेदारी मिली है। इसलिए हमपर चुनौती भी अधिक है। इसलिए हम उस स्तर से काम करेंगे। हमारे मन मे छतीसगढिया और गैर छतीसगढिया का भाव भूपेश सरकार में नही है जो जनता का सेवक है वही छतीसगढिय़ा है ।

जयसिंह के आखिरी एक छक्के से हम जीते: प्रभारी मंत्री
जिला प्रभारी मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने कहा कि जय सिंह के नाम में ही विजय जुड़ा है तो कांग्रेस को विजय तो होंना ही था। टेकाम ने कहा कि जयसिंह ने आखिरी में एक ऐसाछक्का मारा कि हम जीत गए। टेकाम ने कहा कि कोरबा शहर के विकास पर पूरा ध्यान रहेगा।

डॉ महंत ने कबीर के दोहे से पार्षदों को समझाया, कहा जनता की पीड़ा समझे, उनका साथ दें,एक बार चुनाव जीत भर जाने से कुछ नहीं होता

डॉ महंत ने रितु से कहा, एक वोट से हारी हो, हमें भी दुख है
डॉ महंत ने भाजपा की रितु चौरसिया को मंच से कहा कि तुमसे मिला नहीं हूं लेकिन इतना जानता हूं कि तुम जांजगीर की हो। तुम्हारे दादा हमारे पिताजी के साथ चुनाव लड़ते थे। तुम एक वोट से हारी हो हमें भी दुख है। तुम्हारा सम्मान रखा जाएगा। इससे पहले रितु ने दलगत राजनीति से उठकर मंच पर सभी पार्षदों के साथ पहुंचकर अतिथियों का अभिवादन किया।

मंच पर भी निकाय के अध्यक्ष-उपाध्यक्ष भी
कोरबा नगर निगम के साथ-साथ अन्य चार निकाय के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष भी मंच पर थे। कार्यक्रम स्थल से सभी निकाय के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष अपने-अपने निकाय के दफ्तर में पद्भार ग्रहण करने पहुंचे। महापौर राजकिशोर प्रसाद, सभापति श्यामसुंदर सोनी ने भी पद्भार ग्रहण किया। साकेत में पहले पूजपाठ करने के बाद महापौर दफ्तर पहुंचे। जहां उनके साथ पूर्व महापौर रेणु अग्रवाल भी साथ थीं।

डॉ महंत ने कबीर के दोहे से पार्षदों को समझाया, कहा जनता की पीड़ा समझे, उनका साथ दें,एक बार चुनाव जीत भर जाने से कुछ नहीं होता
Deepak Gupta Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned