scriptPeople affected by mine are not getting work in contract companies | खदान से प्रभावित लोगों को ठेका कंपनियों में नहीं मिल रहा काम, कुसमुंडा में छह घंटे मिट्टी खनन बंद | Patrika News

खदान से प्रभावित लोगों को ठेका कंपनियों में नहीं मिल रहा काम, कुसमुंडा में छह घंटे मिट्टी खनन बंद

कोयला खदान से प्रभावित लोगों की समस्या दूर नहीं हो रही है। इससे नाराज भू- विस्थापितों ने रविवार को फिर कुसमुंडा खदान में मिट्टी खनन का काम बंद करा दिया। करीब छह घंटे तक मिट्टी खनन बंद रहा।

कोरबा

Published: June 05, 2022 07:13:34 pm

KORBA. एसईसीएल प्रबंधन ने कुसमुंडा खदान विस्तार के लिए आसपास के गांव की जमीन का अधिग्रहण किया है। इसमें ग्राम बरकुटा भी शामिल है। इसी फेस पर कंपनी कोयला खनन के लिए मिट्टी की परत को हटा रही है। रोजगार की मांग को लेकर रविवार को बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र होकर बुरकुटा की फेस पर पहुंच गए। खनन में लगी गाड़ियों को रोक दिया। मशीनों के सामने खड़े होकर नारेबाजी करने लगे। इससे विवाद खड़ा हो गया। खदान से मिट्टी खनन का काम बंद हो गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि बरकुटा फेस पर मिट्टी खनन का काम एसईसीएल ने ठेका कंपनी नीलकंठम को दिया है। यह कंपनी स्थानीय लोगों को काम पर नहीं रख रही है। बल्कि बाहरी लोगों को बुलाकर काम दे रही है। इसी बात से गांव बरकुटा और इसके आसपास स्थित अन्य गांवों के लोग नाराज हैं।

खदान से प्रभावित लोगों को ठेका कंपनियों में नहीं मिल रहा काम, कुसमुंडा में छह घंटे मिट्टी खननद
बरकुटा फेस पर धरना प्रदर्शन करते खदान से प्रभावित लोग

रविवार सुबह लगभग नौ बजे बरकुटा फेस पर पहुंच गए। ठेका कंपनी के काम को बंद कराने के बाद भू- विस्थापितों ने कहा कि यह जमीन उनकी है। कंपनी ने कोयला खनन के लिए शर्तों पर लिया है। इसमें नौकरी, पुनर्वास और मुआवजा आदि शामिल है। लेकिन कंपनी नौकरी तो दूर आउटसोर्सिंग की ठेका कंपनियों में भी खदान से प्रभावित गांव के मजदूरों को रोजगार नहीं दे रही है। भू- विस्थापितों ने कुसमुंडा खदान की बरकुटा फेस पर सुबह नौ बजे दोपहर तक धरना प्रदर्शन और हंगामा किया। लेकिन बातचीत के लिए एसईसीएल प्रबंधन की ओर से कोई जिम्मेदार अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा।

काम बंद होने से ठेका कंपनी नीलकंठम को आर्थिक नुकसान पहुंचा। तब ठेका कंपनी के अधिकारी बातचीत के लिए मौके पर पहुंचे। उन्होंने खदान से प्रभावित लोगों को काम पर रखने का वादा किया। इसके बाद मामला शांत हुआ। दोपहर लगभग 3.30 बजे भू- विस्थापित धरना प्रदर्शन खत्म कर बरकुटा फेस से बाहर निकले। तब मिट्टी खनन शुरू हुआ। धरना प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में भू- विस्थापित मौजूद थे।

आए दिन प्रदर्शन से प्रबंधन परेशान

कुसमुंडा खदान में आए दिन धरना प्रदशर्न हो रहा है। इससे कंपनी की चिंता बढ़ गई है। एक दिन पहले शनिवार को कुसमुंडा भवन में एसईसीएल के मुख्य सर्तकता अधिकारी के सामने भू- विस्थापितों ने रोजगार की मांग को लेकर हंगामा किया गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, 160 विधायकों के साथ नई सरकार बनाने का दावा किया पेशBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने दिया इस्तीफा, अब महागठबंधन के साथ बनाएंगे सरकारBihar Political Crisis: नीतीश कुमार ने इस्तीफा सौंपने के बाद कहा - 'बीजेपी के साथ एक नहीं कई दिक्कतें थीं''मुफ्त रेवड़ी' कल्चर के समर्थन में सुप्रीम कोर्ट पहुंची आम आदमी पार्टी, कहा- PM मोदी ने 'दोस्तवाद' के लिए खाली किया देश का खजानाMaharashtra Cabinet Expansion: कौन है सीएम शिंदे की नई टीम में शामिल 18 मंत्री? तीन पर लगे है गंभीर आरोपMaharashtra: सीएम एकनाथ शिंदे अपनी ‘मिनी’ टीम का सितंबर में करेंगे विस्तार, सामने आई यह बड़ी अपडेटगुजरात के जामनगर में मुहर्रम पर बड़ा हादसा, ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, कई घायललालू-नीतीश की दोस्ती से ढह जाते हैं सारे समीकरण, जानिए फिर कैसे कम हुई दोनों के बीच दूरियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.