प्रदूषण से बचाने हसदेव, अहिरन और तान नदी के किनारे रोपे जाएंगे 13 लाख पौधे

प्रदूषण से बचाने हसदेव, अहिरन और तान नदी के किनारे रोपे जाएंगे 13 लाख पौधे

Vasudev Yadav | Updated: 12 Jun 2019, 11:34:48 AM (IST) Korba, Korba, Chhattisgarh, India

जिले में प्रमुख नदी हसदेव (Hasdev), अहिरन(Ahiran) और तान नदी(Tan river) के दोनों ओर लगभग १३ लाख पौधे लगाए जाएंगे। कोरबा वनमंडल(Korba Forest Department) को 6 लाख और कटघोरा वनमंडल(KatghoraForest Departmen) को 5 लाख पौधे रोपने(Planting plants) के निर्देश दिए गए हैं।

कोरबा. जिले में प्रमुख नदी हसदेव (Hasdev), अहिरन(Ahiran) और तान नदी(Tan river) के दोनों ओर लगभग १३ लाख पौधे लगाए जाएंगे। कोरबा वनमंडल(Korba Forest Department) को 6 लाख और कटघोरा वनमंडल(KatghoraForest Departmen) को 5 लाख पौधे रोपने(Planting plants) के निर्देश दिए गए हैं।
कोरबा(K0rba) जिले में आगामी मानसून के मौसम(Weather) में वृहद वृक्षारोपण(tree planting) की तैयारी शुरू हो गई है। कलेक्टर(Collector) किरण कौशल ने आज समय सीमा की साप्ताहिक बैठक में वृक्षारोपण(tree planting) की तैयारियों के साथ-साथ सभी विभागों के कामकाज की समीक्षा की। अधिकारियों को शासन की मंशा अनुसार समय सीमा में काम करने के निर्देश दिए। आगामी मानसून मौसम(Monsoon season) के दौरान कोरबा जिले में 13 लाख पौधे रोपने की तैयारी की जा रही है। शासकीय परिसरों, ग्राम पंचायतों, शासकीय एवं वन भूमि सहित इस बार हसदेव(Hasdev), अहिरन(Ahiran) , तान(Tan) जैसी प्रमुख नदियों(rivers) के दोनों किनारों पर भी वृक्षारोपण(tree planting) किया जायेगा। नदी को प्रदूषण से बचाने(Protect the river from pollution) के लिए शासन ने इसके लिए पूर्व एक्शन प्लान जारी किया था। वन मण्डल कोरबा(Forest circle korba) द्वारा छ: लाख और वन मण्डल कोरबा वनमंडल कटघोरा द्वारा पांच लाख पौधे रोपे जायेंगे। सार्वजनिक स्थलों एवं शासकीय परिसरों में भी लगभग ढाई लाख पौध रोपण की तैयारी है। कलेक्टर किरण कौशल ने इस वृहद वृक्षा रोपण अभियान के लिए संबंधित विभागों को भूमि(land) चिन्हाकित कर जरूरी व्यवस्थांं करने के निर्देश दे दिये हैं। वृक्षारोपण(tree planting) के लिए गढ्ढे खोदने, सिंचाई(irrigation) के लिए पानी(Water) की व्यवस्था से लेकर पौधों को जानवरों से बचाने के लिए ट्री गार्ड की भी व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। इन पौधों में डालने के लिए कम्पोस्ट खाद की पूर्ति उपलब्धता के लिए भी निर्देश् दिए गए।

अगले महीना व्यापक स्तर पर होगा पौधरोपण
अगले महीने व्यापक स्तर पर पौधरोपण होगा। कटघोरा वनमंडल द्वारा अहिरन नदी और हसदेव नदी के एक छोर पर पौधे लगाए जाएंगे। वहीं कोरबा वनमंडल द्वारा हसदेव नदी के कोरबा शहर के बीच से गुजरे लगभग १८ किलोमीटर के दायरे व कुदमुरा रेंज के बीच से गुजरे तान नदी के दोनों तरफ पौधे लगाए जाएंगे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned