शिक्षा स्तर पर जताई चिंता, इस्पात मंत्रालय के संयुक्त सचिव बर्थवाल ने अधिकारियों से एक्शन प्लान तैयार करने कहा

Vasudev Yadav

Publish: Dec, 08 2017 12:35:22 (IST)

Korba, Chhattisgarh, India
शिक्षा स्तर पर जताई चिंता, इस्पात मंत्रालय के संयुक्त सचिव बर्थवाल ने अधिकारियों से एक्शन प्लान तैयार करने कहा

बर्थवाल ने बैठक में जानकारी दी कि भारत सरकार द्वारा पूरे देश के 115 जिलों का चयन किया गया है जिसमें छत्तीसगढ़ के 10 जिले मे कोरबा जिला भी शामिल हैं।

कोरबा . इस्पात मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने गुरुवार को जिले के अधिकारियों की तीन घंटे तक मैराथन समीक्षा बैठक ली। संयुक्त सचिव सुनील बर्थवाल ने सभी योजनाओं और विभाग के कामकाज की जानकारी ली। बैठक मेंं शिक्षा स्तर पर चिंता जताते हुए संयुक्त सचिव बर्थवाल ने प्रायमरी के बाद माध्यमिक शिक्षा से जोडऩे एक्शन प्लान बनाने के निर्देश दिए।

बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन वर्ष 2022 तक सभी योजनाओं में पूर्ण रुप से भागीदारी के साथ जिले को विकास की श्रेणी में आगे बढ़ाने कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए ताकि लोगों के जीवन स्तर में सुधार आये। बर्थवाल ने बैठक में जानकारी दी कि भारत सरकार द्वारा पूरे देश के 115 जिलों का चयन किया गया है जिसमें छत्तीसगढ़ के 10 जिले मे कोरबा जिला भी शामिल हैं।

Read More : जानवरों के हमले से परेशान हैं गांव के लोग, सांस रोककर ग्रामीण ने कैसे बचाई हाथी से जान, पढि़ए खबर

संयुक्त सचिव बर्थवाल ने प्रोजेक्टर के जरिये जिले में स्वास्थ्य एवं पोषण पुनर्वास के क्षेत्र में किये गये कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने शून्य से 05 वर्ष तक के बच्चों को सुपोषित बनाने, वजन बढ़ाने तथा उम्र के हिसाब से ऊचांई बढऩे सहित आंगनबाड़ी केन्द्रों एवं स्वास्थ्य केन्द्रों का लाभ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बर्थवाल ने सभी को टीम वर्क के साथ एवं समर्पित होकर कार्य करने के निर्देश दिए।

उन्होंने गर्भवती महिलाओं को पूरक पोषण आहार, संस्थागत प्रसव को बढ़ाने महिला साक्षरता में वृद्धि करने, खुले में शौचमुक्त ग्रामों में शौचालय के नियमित उपयोग के साथ-साथ सफाई व्यवस्था एवं पानी की उपलब्धता पर भी ध्यान देने की जरुरत बताई। बैठक में कलेक्टर मो. कैसर अब्दुल हक, पुलिस अधीक्षक डी.श्रवण, जिला पंचायत सीईओ इंद्रजीत सिंह चंद्रवाल, नगर निगम आयुक्त रणवीर शर्मा, डीएफओ कोरबा एस वेंकटाचलम, कटघोरा एस. जगदीशन, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया, सहित विभिन्ना विभागों के जिला स्तर के अधिकारी उपस्थित थे।

डीएमएफ राशि से जुड़े सवाल पर संयुक्त सचिव बोले नो कमेंट
बैठक लेने के बाद पत्रकारों से चर्चा के दौरान संयुक्त सचिव सुनील बर्थवाल ने बताया कि कोरबा जिले में सभी योजनाओं पर काम अच्छा चल रहा है। इसे और भी अच्छी तरह से समय पर पूरे करने के निर्देश दिए गए हैं। कुछ योजनाओं को स्पेशल नोटिस किया गया है। इसपर काम होगा। डीएमएफ के कार्यों पर किए गए सवाल पर बर्थवाल नो कमेंट्स बोलते हुए सीधे चलते बने।

फ्लोराइड प्रभावित गांवों में शुद्ध पानी कराएं उपलब्ध
बैठक में पहुंचविहीन एवं बसाहट वाले ग्रामों में स्वच्छ पेचजल की उपलब्धता , फ्लोराइड युक्त पानी वाले क्षेत्रों में साफ पीने के पानी की व्यवस्था, अधोसंरचना के क्षेत्र में भवन निर्माण, सौभाग्य योजना अंतर्गत विद्युत विहीन ग्रामों में विद्युतीकरण , ग्राम पंचायतों में इटरनेट कनेक्टिविटी, सड़क निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत आवास निर्माण, गरीबी हटाने की दिशा में कार्य, बैंक लोन वितरण की समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए।

उन्होंने जिले में कृषि अंतर्गत खरीफ फसल के अलावा रबी फसल को बढ़ावा देने तथा डेयरी, मत्स्य, उद्यानिकी, पशुपालन आदि के माध्यम से किसानों का लाभ दुगना करने की दशा में कार्ययोजना बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए। बर्थवाल ने केन्द्रीय योजना महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत जॉबकार्ड एवं कार्य देने के संबंध में भी निर्देश दिए।

उन्होंने डीएफओ से वनवासी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार लाने लघु वनोपज संग्रहण के संबंध में जानकारी ली। सचिव ने जिला खनिज संस्थान न्यास (डीएमएफ) के कार्यों की भी समीक्षा की। पुलिस अधीक्षक से जिले में अपराध नियंत्रण एवं कानून व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। बैठक में कलेक्टर मो. कैसर अब्दुल हक ने कहा कि जिले के विकास के लिए जो भी बिंदु चिन्हित किए गए है, उस पर कार्ययोजना बनाकर कार्य सुनिश्चित किया जायेगा। इसके लिए कोर ग्रुप भी बनाया जायेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned