भरी बरसात में किया जा रहा ये काम, एनएच में जाम तो कलेक्टोरेट रोड वन-वे होने से चलना हुआ खतरनाक

जिला मुख्यालय जांजगीर में इन दिनों दो निर्माण कार्य (Construction work) लोगों की मुसीबतें बढ़ा रही है। दोनों ही कामों की शुरुआत वैसे तो गर्मी से पहले हो चुकी है, लेकिन खुदाई और मिट्टी डालने का काम अब भरी बरसात में किया जा रहा है।

By: Vasudev Yadav

Published: 06 Jul 2019, 07:05 PM IST

जांजगीर-चांपा. जिला मुख्यालय जांजगीर में हसदेव नदी से पानी लाने के लिए 36 करोड़ रुपए की नल-जल योजना के तहत वर्तमान में चांपा रोड में निर्माण कार्य (Construction work) किया जा रहा है। इसके लिए सड़क किनारे गड्ढा खोदकर पाइप लाइन बिछा रहे हैं। लेकिन भरी बरसात के समय खुदाई का काम खतरनाक साबित हो सकता है।

Read More : इस बात को लेकर शिक्षा विभाग में मची है खलबली, कारण जान आपके भी उड़ जाएंगे होश
एनएच के किनारे मिट्टी खुदाई कर सड़क पर डाला जा रहा है और फिर पाइप लाइन डालने के बाद उसी मिट्टी को ऊपर डाल रहे हैं। बारिश के कारण मिट्टी वाहनों के कारण सड़क पर फैल रही है। इधर कार्य के दौरान सड़क वन-वे की तरह हो जा रही है।
एक ओर हैवी वाहन चल रहे हैं तो दूसरी ओर मिट्टी के चलते चलना मुश्किल है। ऐसे में रोज जाम की स्थिति बन रही है। बीटीआई पुल से लेकर कलेक्टोरेट मार्ग तक बड़े वाहनों की लाइन लग जा रही है। वाहन कछुए की चाल से आगे बढ़ रहे हैं जिससे चारपहिया और दो पहिया वाहन चालकों को आगे बढऩा मुश्किल हो रहा है। यहां थोड़ी सी चूक बड़ी गलती साबित हो सकती थी।

Read More : नपा का फरमान : अब 20 दिनों में नहीं बनवाया वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तो...

भरी बरसात में किया जा रहा ये काम, एनएच में जाम तो कलेक्टोरेट रोड वन-वे होने से चलना हुआ खतरनाक

उल्लेखनीय है कि जिला मुख्यालय के लिए नल-जल योजना बड़ी सौगात है, लेकिन समय के अनुसार काम नहीं हो रहा। बरसात लगने के बाद पाइप लाइन बिछाने का काम हो रहा है जबकि काम शुरू करने के लिए वर्कआर्डर अक्टूबर पहले सप्ताह में जारी हो गया था। ऐसे में पूरी गर्मी का सीजन निकल गया और अब बारिश में खुदाई का काम करा रहे हैं।

 

Vasudev Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned