अधिकार यात्रा : जोगी भईया ले कम नई हे, ऐ ह ओकर बहू हे

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की अधिकार यात्रा में छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बहू और विधायक अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी आज कोरबा प्रवास पर र

By: Rajkumar Shah

Updated: 10 Nov 2017, 08:07 PM IST

कोरबा . जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की अधिकार यात्रा में छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी की बहू और विधायक अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी आज कोरबा प्रवास पर रहीं। पुरानी बस्ती में पहुंची अधिकार यात्रा के दौरान एक स्थानीय महिला कार्यकर्ता ने ऋचा को आम लोगों से मिलवाते हुए कहा कि- जोगी भैया ले कम नई हे, ऐ ह ओकर बहू हे! इसके बाद अधिकार यात्रा आगे बढ़ी।


अधिकार यात्रा के दसवें दिन कोरबा की पुरानी बस्ती में जनता कांग्रेस के कार्यकर्ता पुरानी बस्ती पहुंचे। ऋचा जोगी ने घर-घर जाकर लोगों को अजीत जोगी द्वारा छत्तीसगढ़ की जनता को दिया हुआ शपथ पत्र सौंपा। अधिकार यात्रा के दौरान जोगी कांग्रेस के जिला अध्यक्ष राम सिंह अग्रवाल, पवन अग्रवाल, मनीराम जांगड,़े एसडी सिंह सहित सभी प्रमुख पदाधिकारी मौजूद रहे।


जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की अधिकार यात्रा में शामिल होने शुक्रवार को अजीत जोगी की बहू को अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी जिले के प्रवास पर रहीं। पूरे प्रदेश में जोगी कांग्रेस द्वारा अधिकार यात्रा का आयोजन किया गया है। पदाधिकारियों ने पुरानी बस्ती का भ्रमण किया। इस दौरान खासतौर पर ऋचा जोगी मौजूद थीं। ऋचा ने लोगों के घर-घर दस्तक दी और अजीत जोगी द्वारा जो शपथ पत्र तैयार किया गया है। उसका वितरण कर इसके विषय में लोगों को जानकारी दी। यह कहना गलत नहीं होगा कि चुनाव के डेढ़ साल पहले ही जनता कांग्रेस पूरे जोर-शोर से प्रचार में जुट गई है। पार्टी चुनावी मोड में आ चुकी है।

लोगों मे है उत्सुकता- पत्रिका से खास बातचीत के दौरान ऋचा ने बताया कि कोरबा में इस अधिकार यात्रा को सकारात्मक रुझान मिल रहा है। अधिकार यात्रा का मतलब है छत्तीसगढिय़ा लोगों की छोटी से छोटी अधिकारों के लिए संघर्ष। हम छत्तीसगढ़ के मूल निवासियों के लिए उनके अधिकारों की लड़ाई लड़ रहे हैं। फिर चाहे वह बिजली की हो बिजली बिल के बढ़े हुए दर, प्रॉपर्टी टैक्स या फिर जमीन का पट्टा। अधिकार पत्र में भी उल्लेख किया गया है कि स्थानीय शासकीय व अशासकीय संस्थाओं में 90 से 100 प्रतिशत नौकरी वहां के स्थानीय युवाओं को मिलने चाहिए। इसके अलावा अंदरूनी क्षेत्रों में छोट पद पर काम करने वाले कोटवार और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को भी नियमितीकरण करने की मांग हम कर रहे हैं। उनके विषय में भी हमने चर्चा की है। इस अधिकार पत्र में छात्राओं की सुरक्षा के विषय में भी उल्लेख किया गया है। कोरबा की राजनीति के प्रश्न पर ऋचा जोगी ने कहा कि यहां चार विधानसभा सीटें हैं। हमारा लक्ष्य सभी 90 विधानसभा सीटें जीतने का है। चुनाव चिन्ह के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि चुनाव के छ: माह पहले चुनाव चिह्न में मिल जाएगा।

ये मामूली पर्चा नहीं शपथ पत्र है लड़ सकते हैं कानूनी लड़ाई- अधिकार यात्रा के दौरान एक आम नागरिक ने पूछ लिया कि चुनाव के पहले तो सभी ऐसे पर्चे बांटते हैं। इसमें नया क्या है? इसका जवाब देते हुए ऋचा ने कहा कि यह मामूली पर्चा नहीं है, यह अजीत जोगी द्वारा छत्तीसगढ़ की जनता को दिया गया शपथ पत्र है। छत्तीसगढ़ में यदि जनता कांग्रेस की सरकार बनती है, और ये मांगें पूरी नहीं तो आप कानूनी लड़ाई लड़ सकते हैं।

लोगों में उत्साह- एक प्रश्न के जवाब में ऋचा ने कहा कि जब कोई नई फिल्म आती है और उसमें हीरो नया होता है तो लोगों में जानने की उत्सुकता रहती है। वह जानना चाहते हैं कि फिल्म में हीरो कौन है? इसी तरह हम हमारी पार्टी के अस्तित्व में आने से लोगों में उत्साह है। शपथ पत्र के बारे में लोग जानना चाहते हैं कि इसमें कौन-कौन सी बातों का उल्लेख है।

Rajkumar Shah Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned