बुक डिपो की आड़ में चल रहा था ये काम, पुलिस ने दबोचा तब हुआ खुलासा

सट्टा खेलाते विद्यार्थी बुक डिपो का संचालक गिरफ्तार

By: Shiv Singh

Published: 25 Apr 2018, 10:53 AM IST

कोरबा . विधार्थी बुक डिपो का संचालक दुकान की आड़ में सटटपटट्ी खिलवाने का काम कर रहा था। पुलिस आरोपी संचालक को रंगेहाथ दबोचने के लिए जाल बिछाकर पहले दो लोगों को पैसे लेकर भेजा गया। जहां से इशारा मिलते ही पुलिस ने दुकान में रेड मारी। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।


कोतवाली पुलिस को मुखबीर से सूचाना मिली कि विद्यार्थी बुक डिपो का संचालक सटा खिला रहा है । पुलिस ने दो युवकों को पाइंटर बनाकर 10000 रूपये नोटों की सीरियल नंबर को पंचनामा बनाकर पाइन्टर को मुखबीर की बनाई जगह पर भेजा गया हम। दोनों के पीछे-पीछे पुलिस भी रवाना हुई।

कोतवाली से चंदकदम की दूरी पर ओवरब्रिज के नीचे विधार्थी बुक डिपो का संचालन नितेश मोदी दुकान से ही सटट पटट्ी खिलवा रहा था। पाइन्टर के रकम देने के बाद इशारा किया गया। जिस पर पुलिस की टीम ने मौके से विद्यार्थी बुक डिपो के संचालक नितेश मोदी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने उसके पास से 3600 रूपये और तथा सट्टा पट्टी 2 नग मोबाइल फोन जप्त किया गया है। आइपीएल में सटट लगाने वाले कई लोगों को पुलिस ने अलग-अलग क्षेत्रों से पकड़ा है।

---------------
बालिग होने में दो माह कम टीम ने रूकवा दिया विवाह
कोरबा. ढेलवाडीह में टीम ने मंगलवार को एक नाबालिग की शादी रूकवा दी गई।
ढेलवाडीह में एक किशोरी का मण्डप मंगलवार को और शादी गुरूवार को होनी थी। सूचना मिलने पर बाल विवाह के रोकथाम हेतु गठित दल द्वारा घर पहुंची। जंहा बालिका की आयु लगभग 17 वर्ष 10 माह पाया गया जिसे देखते हुए बालिका का बाल विवाह न करने हेतु समझाइश दी गयी।

साथ ही बाल विवाह न कराये जाने की सुचना पाकर आये जांजगीर जिले के दूल्हे व उनके परिजनों को भी उक्त विवाह को बालिका के 18 वर्ष पूर्ण कर लेने के बाद करने के लिए समझाइश देते हुये बाल विवाह करने के लिए दिए जाने वाले सजा और जुर्माना के विषय मे बताया तो परिवार वालों ने उक्त विवाह को बालिका के 18 वर्ष पश्चात करने के लिए सहमति जताई। संगीता कोरम पर्यवेक्षक महिला एवं बाल विकास विभाग, नमिता लकरा चाइल्ड लाइन कोरबा सहित अन्य उपस्थित थे।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned