खदान की सुरक्षा खतरे में, डीजल व कबाड़ चोर गिरोह ने किया ये काम

Theft Case: डीजल और कबाड़ के बाद कुसमुंडा खदान से राडार स्क्रीन की चोरी, कंपनी के सुरक्षा विभाग ने दी थाने को सूचना, प्रबंधन की बढ़ी परेशानी

कोरबा. डीजल और कबाड़ की चोरी करने वाला गिरोह एसईसीएल की कुसमुंडा खदान से स्लोप स्टेबिलिटी रॉडार (एसएसआर) का स्क्रीन चोरी कर ले गया है। इससे खदान की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। ओवर बडन क्षेत्र में होने वाली हलचल पर नजर रखने में प्रबंधन के लिए परेशानी खड़ी हो गई है।

दो साल में रॉडार से छेडख़ानी और चोरी की यह दूसरी घटना है। इसके पहले चोरों के गिरोह ने दीपका खदान में स्लोप स्टेबिलिटी रॉडार के पाट्र्स की चोरी की थी। मशीनों को काफी नुकसान पहुंचाया था। कुसमुंडा खदान में रॉडार स्क्रीन की चोरी से प्रबंधन की परेशानी बढ़ गई है। प्रबंधन की ओर से रॉडार स्क्रीन की चोरी की सूचना थाने को दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि चोरों ने रॉडार के पाट्र्स को नुकसान पहुंचाया या नहीं।

Read More : Suicide Case : नदी किनारे प्रेमी जोड़े ने जहर सेवन कर की खुदकुशी

गेवरा, दीपका और कुसमुंडा में रॉडार
डंपिंग यार्ड में होने वाली गतिविधियों पर नजर रखने के लिए एसईसीएल की ओर से कुसमुंडा, गेवरा और दीपका खदान में स्लोप स्टेबिलिटी रॉडार लगाई गई है। रॉडार के जरिए डंपिंग यार्ड की तस्वीर ली जाती है। इसका विश्लेषण कर रॉडार बताता है कि डंपिंग में कैसी हलचल हो रही है।

Vasudev Yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned