शराब पीकर सड़क पर हंगामा, घर में घुसकर मारपीट करने से लेकर अवैध वसूली कर रहे ये कर्मी, पढि़ए खबर...

शराब पीकर सड़क पर हंगामा, घर में घुसकर मारपीट करने से लेकर अवैध वसूली कर रहे ये कर्मी, पढि़ए खबर...

Shiv Singh | Publish: Mar, 14 2018 12:49:10 PM (IST) Korba, Chhattisgarh, India

लोगों को कानून और नैतिकता की पाठ पढ़ाने वाली पुलिस, अपने ऊपर पाठ को लागू नहीं करती ?

कोरबा . लोगों को सुरक्षा व सम्मानजनक तरीके से जीने के लिए माहौल देने वाली पुलिस जिल में विपरीत अंदाज में है। पुलिस की खाकी के दामन पर शराब पी कर सड़क पर हंगामा करने, घर में घुसकर मारपीट करने से लेकर अवैध वसूली का दाग लग रहे हैं। वहीं ट्रेफिक पुलिस पर चालान पेश करने के लिए रिश्वत से लेकर फल व्यवसायियों से मारपीट के मामले भी सामने आ चुके हैं। लाख प्रयास के बावजूद हालत नहीं सुधर रहे हैं।

कानून की हालात ऐसी है कि अपराधी वारदात करने के बाद भी पुलिस की पकड़ में नहीं आ रहे हैं। पुलिस की दामन पर हाल ही में ऐसे दाग लगे हैं, जो उसके कार्य पर सवाल उठाते हैं। पुलिस लोगों की सुरक्षा के लिए है, लेकिन जब सिपाही ही शराब के नशे में सरकारी जीप से लोगों को ठोकर मारने का प्रयास करे तो तो वह आम लोगों की सुरक्षा कैसे करेगी? इसका अनुमान लगाया जा सकता है।

Read More : पढि़ए खबर, किस तरह से 11 साल से दिल्ली में छिपकर लोगों को ठग रहा था नाइजीरियन युवक

लोगों को कानून और नैतिकता की पाठ पढ़ाने वाली पुलिस, अपने ऊपर पाठ को लागू नहीं करती ? जब कभी आरक्षक या उससे ऊपर के अधिकारियों पर अभद्र व्यवहार, रिश्वत मांगने या मारपीट करने का आरोप लगता है तो बड़े अफसर महज लाइन अटैच, सस्पेंड करने की ही कार्रवाई करते हैं। कानूनी कार्रवाई से दूर रखा जाता है।

आदिवासी महिला के घर में घुसकर मारपीट व हंगामा

पसान थाना क्षेत्र में आदिवासी महिला के घर में घुसकर पसान थाना के एसआई, एएसआई और आरक्षक पर मारपीट और गाली-गलौज करने के आरोप हैं। पीडि़त महिला ने एसपी से मिलकर न्याय मांग रही है।

ट्रैफिक पुलिस कर्मी अवैध वसूली कर भर रहा था अपनी जेब
ट्रेफिक पुलिस सिपाही नंदलाल राठौर पर अवैध वसूली का आरोप लगा है। दरअसल ट्रेफिक सिपाही ने कार्रवाई में जब्त की गई गाडिय़ों का चालान बनाकर कोर्ट में प्रस्तुत करने के लिए युवक से रिश्वत मांग रहा था। इसका वीडियो वायरल होने के बाद सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया।

नशे में सरकारी वाहन से ग्रामीण को मारा ठोकर
दो मार्च को को होली के दिन शाम लगभग छह बजे सिपाही सोहन पटेल मोरगा चौकी से पुलिस की बोलेरो लेकर निकल रहा था। चौकी से थोड़ी दूर सिपाही ने एक बैल को ठोकर मार दिया। सिपाही की गाड़ी यहीं नहीं रूकी। उसने साइकिल से जा रहे फेकुराम उरांव को ठोकर मारा। सामने से एक साइकिल पर बैठकर आ रही महिला सुमित्रा और उसके देवर को भी घायल कर दिया। फेकुराम और सुमित्रा को प्राथमिक इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। वहां से फेंकुराम को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। घटना की सूचना पर अफसरों ने सिपाही सोहन को लाइन अटैच कर दिया है। जबकि इसके खिलाफ शराब पीकर वाहन चलाने की कार्रवाई नहीं की गई।

नशे में धुत आरक्षक ने वर्दी उतार कर किया शर्मसार
पांच दिसंबर नशे में धुत आरक्षक राधे सिंह यादव करतला बस स्टैंड में सड़क पर गुजरने वाले लोगों को रूकवा कर वसूली करता रहा। इस बीच कुछ व्यापारियों ने विरोध जताया, तो आरक्षक अपनी वर्दी उतारकर जमकर फूहड़ता दिखाई थी। गाली-गलौज कर किसी भी अधिकारी से शिकायत कर लेने की बात कहते हुए बाइक पर बैठ गया। आधे घंटे तक सड़क पर तमाशा होने के बाद सूचना पर पहुंची करतला पुलिस आरक्षक को थाने तो लाई। लेकिन बिना कार्रवाई किए ही उसे छोड़ दिया। बाद मेंं करतला टीआई ने कहा कि शिकायत करने वाला कोई नहीं मिला जबकि दो व्यापारियों की शिकायत पुलिस ने बिना लिए ही लौटा दिया। दो दिन बाद इस सिपाही को महकमे ने सस्पेंड कर दिया।

हंसने पर किशोर को प्रशिक्षु डीएसपी ने बेल्ट से पीटा था
२८ फरवरी को रामपुर चौकी क्षेत्र में पुष्पलता उद्यान में बैठे पांच नाबालिग लड़के- लड़कियों को उठाकर पुलिस का एक सिपाही रामपुर चौकी ले गया था। चौकी से घटना की सूचना प्रशिक्षु डीएसपी शेर बहादुर ठाकुर को दी गई। चौकी के सिपाही से बेल्ट का पट्टा मंगाया। किशोर की पिटाई कर दी थी। पीडि़त ने पुलिस से डर की वजह से उसने कार्रवाई के लिए आवेदन तक नहीं किया।

Ad Block is Banned